यूपी के प्रवासी भारतीय रत्नों का मुख्यमंत्री करेंगे सम्मान

यूपी के प्रवासी भारतीय रत्नों का मुख्यमंत्री करेंगे सम्मान

4 से 6 जनवरी के बीच दूसरे ‘उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस’ का उद्घाटन कल

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कल 04 जनवरी, 2017 को लखनऊ में ‘यूपी प्रवासी दिवस’ का उद्घाटन करेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा दुनिया में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य कर रहे उ0प्र0 के प्रवासी भारतीय रत्नों को सम्मानित किया जाएगा।

आज यह जानकारी देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि यह आयोजन प्रदेश के विकास हेतु मौजूद सम्भावनाओं को साकार रूप देने के लिए चर्चा का एक मंच प्रदान करेगा। इसमें यह भी प्रदर्शित किया जाएगा कि देश का सबसे बड़ा राज्य होने के नाते निवेश और व्यापार की सम्भावनाएं भी उत्तर प्रदेश में हैं। इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में निवेश को प्रोत्साहित करना और इसके माध्यम से विकास की सम्भावनाओं के लिए कार्य करने के साथ ही, स्वास्थ्य और अन्य बुनियादी जरूरतों के क्षेत्रों को विकसित करना रहेगा। प्रवक्ता ने कहा कि उत्तर प्रदेश में निवेश, हेल्थ केयर, अवस्थापना, एस0एम0ई0, विनिर्माण, कौशल विकास और शिक्षा आदि क्षेत्रों में हुए विकास को प्रदर्शित करने तथा प्रदेश से जुड़े लोगों से राज्य में निवेश आकर्षित करने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा 4 से 6 जनवरी, 2017 के बीच दूसरे ‘उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस’ का आयोजन किया जा रहा है। राज्य सरकार की नीतियों व उनके क्रियान्वयन से उत्तर प्रदेश निवेश के एक आदर्श गंतव्य स्थल के रूप में विकसित हुआ है। इसके लिए राज्य में उद्योगों के अनुकूल माहौल भी तैयार किया गया है।

आयोजन के दौरान ‘उम्मीदों का प्रदेश, उत्तर प्रदेश’ तथा अन्य विषयों पर तीन सत्र होंगे। प्रवासी दिवस के दौरान एन0आर0आई0 को उनके मूल प्रदेश और इसके विकास में भागीदारी निभाने के लिए किस प्रकार प्रेरित किया जाए, इस पर चर्चा होगी। स्वास्थ्य क्षेत्र में कार्य करने वाले दिग्गजों को जोड़ने पर विशेष फोकस होगा। इस दौरान पब्लिक और प्राईवेट सेक्टर के प्रदेश में निवेश की सम्भावनाओं और सफलता को लेकर भी जानकारी दी जाएगी।

इसी प्रकार अकुशल कामगार रहे गिरमिटिया समुदाय पर भी चर्चा की जाएगी, जिन्होंने विपरीत परिस्थितियों के बावजूद संघर्ष किया और अपना एक मुकाम स्थापित किया। गिरमिटिया समुदाय ने विभिन्न देशों की संस्कृति में घुल-मिलकर स्वयं को वहां के अनुरूप स्थापित किया और सफलता के नए प्रतिमान गढ़े। आयोजन के दौरान माॅरीशस के कला-संस्कृति मंत्री पृथ्वीराज सिंह रूपन, भारत में मॉरीशस के राजदूत जे0 गोबर्धन, मुख्य सचिव राहुल भटनागर, एन0आर0आई0 विभाग के प्रमुख सचिव रमा रमण, स्वास्थ्य चिकित्सा एवं परिवार कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अरूण कुमार सिन्हा, इण्डियन डायस्पोरा काउन्सिल यू0एस0ए0 के अध्यक्ष अशोक रामशरण, उत्तर प्रदेश स्टेट काउन्सिल के चेयरमैन तथा टेस्टी डेयरी स्पेशियलिटी लिमिटेड के प्रबन्ध निदेशक अतुल मेहरा आदि विभिन्न सत्रों को सम्बोधित करेंगे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India