ओवैसी ने आरएसएस को कुंवारों का क्लब क़रार दिया

ओवैसी ने आरएसएस को कुंवारों का क्लब क़रार दिया

हैदराबाद : एमआईएम के नेता अकबरूद्दीन ओवैसी ने सोमवार को एक नया विवाद पैदा करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को ‘कुंआरों का क्लब’ करार दिया और कहा कि दूसरों से ज्यादा बच्चे पैदा करने की बात कहने वाले लोगों को ऐसा करने का कोई हक नहीं है क्योंकि वे खुद शादीशुदा नहीं होते।

प्रत्येक हिंदू महिला को धर्म की रक्षा के लिए चार बच्चे पैदा करने की सलाह संबधी बयान देने वाले भाजपा नेता साक्षी महाराज का नाम लिये बिना तेलंगाना विधानसभा में एमआईएम के नेता ओवैसी ने कहा कि उन्हें बताना चाहिए कि बच्चों को शिक्षा और नौकरी देने के संबंध में क्या पर्याप्त संसाधन हैं।

उन्होंने यहां दारुलसलाम में अपनी पार्टी के मुख्यालय में उसके 57वें स्थापना दिवस पर आयोजित सभा में कहा, ‘संघ प्रचारक कभी शादी नहीं करेंगे। यह संघ नहीं बल्कि कुंआरों का क्लब है। वे कभी शादी नहीं करते और जिम्मेदारी लेने को तैयार नहीं हैं। वे कभी जिंदगी की समस्याओं का सामना नहीं करते, पत्नी और बच्चों की दिक्कतों को नहीं झेलते लेकिन दूसरों को चार बच्चे पैदा करने की सलाह देते हैं।’

एमआईएम अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी के भाई ने कहा, ‘सभी मुस्लिमों को अपने अधिकारों के लिए संगठित हो जाना चाहिए। अगर वे एक नहीं होते तो मुसलमानों की पहचान खतरे में पड़ने की आशंका पैदा हो जाएगी।’ अकबरूद्दीन ने कहा कि उनकी पार्टी पश्चिम बंगाल, बिहार और कर्नाटक जैसे अन्य राज्यों में भी पैर पसारने की तैयारी कर रही है।

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी दलितों के उत्थान के लिए तथा उनके अधिकारों के लिए काम करेगी।

अकबरूद्दीन ने जापान के प्रधानमंत्री शिंझो आबे की भारत यात्रा के दौरान उन्हें ‘भगवद् गीता’ की प्रति भेंट करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर मोदी धर्मनिरपेक्ष हैं तो उन्हें भारतीय संविधान की प्रति भेंट करनी चाहिए थी।