सिंचाई भवन का घेराव आठ अप्रैल को

सिंचाई भवन का घेराव आठ अप्रैल को

सिंचाई संघ के आन्दोलन में शामिल रहेेगी संयुक्त परिषदःहरिकिशोर

लखनऊ। सिंचाई संध उत्तर प्रदेश के द्विवार्षिक सम्मेलन लोक निर्माण विभाग डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ प्रेक्षागृह में संघ के अध्यक्ष अवधेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में शुरू हुआ। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष इं. हरिकिशोर तिवारी ने दीपप्रज्वलित कर किया। उन्होंने इस दौरान अपने सम्बोधन में कहा कि सिंचाई संघ की मांगे जायज है। सिंचाई संघ के हर आन्दोलन में संयुक्त परिषद की भागीदारी रहेगी। सिंचाई कर्मियों की मांगों के निस्तारण के लिए परिषद जोरदार पैरवी करेगा। इस दौरान सिंचाई संघ ने अपने बीस सूत्रीय मांग प. पर विस्तार से चर्चा के उपरान्त समस्याओं के निराकरण न होने पर 16 मार्च को जनपद मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर अधिशासी अभियंता और जिलाधिकारी के माध्यम से विभागाध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने का निर्णय लिया है। इसके अलावा इसके बाद भी अगर समस्याओं का निराकरण नही हुआ तो आठ अप्रैल को सिंचाई भवन घेरने का निर्णय लिया है।

अधिवेशन को विशिष्ठ अतिथि के रूप में सम्बोधित करते हुए राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के पूर्व अध्यक्ष रामजी अवस्थी, चेयरमैन संघर्ष समिति शिवबरन सिंह यादव, डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ लोनिवि के महामंत्री बी.के. कुशवाहा ने कहा कि सिंचाई संघ की सभी मांगे जायज है जिनमें से अधिकत्तर का निस्तारण विभागाध्यक्ष स्तर पर भी हो सकता है। इस दौरान कई अन्य घटक संघों के अध्यक्ष, महामंत्री, सिंचाई संघ के अध्यक्ष मंत्रियों के साथ राज्य संयुक्त परिषद के संगठन मंत्री डी.एन.सिंह ने सम्बोधित किया। संघ के अध्यक्ष ने आन्तरिक सत्र में अपनी आख्या रखी जबकि संजय यादव ने आय-व्यव का लेखा जोखा प्रस्तुत किया। डीएन सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि हम एकजुट होकर ही अपनी मांगों की प्रतिपूर्ति कर सकते है। उन्होंने उपस्थित सदस्यों को विश्वास दिलाया कि हम राज्य कर्मचारी परिषद के नेता हरिकिशोर तिवारी में बड़ी सफलता हासिल करेंगे।अधिवेशन में सी.बी. सिंह, ब्रजेश यादव, शिवाकांत पाण्डेय, राजेश्वर शुक्ला, छत्रसाल सिंह , अरूण सिंह,हरेन्द्र सिंह, राजबहादूर सिंह, प्रेम बाबू, के.के.गुप्ता, अम्बिका दुबे, विजय सिंह, धनेन्द्र यादव, महिपाल सिंह, मनोज राय, दानिश अहमद, राम अवध यादव और विनोद सिंह उपस्थित थे। अधिवेशन का संचालन महामंत्री विनोद कुमार पाण्डेय ने किया। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India