टूटी टैक्स में कमी की आशा

टूटी टैक्स में कमी की आशा

नई दिल्ली। बजट में इनकम टैक्स में छूट आस लगाए बैठे लोगों को वित्तमंत्री अरूण जेटली ने झटका दिया। आम बजट 2015-16 के दौरान इनकम टैक्स में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इनकम टैक्स का स्लैब जस का तस ही रहेगा। हालांकि इनकम टैक्स में मिलने वाली छूट जारी रहेंगी। साथ ही एक लाख रूपये या इससे ज्यादा की खरीद पर पैन कार्ड नंबर देना होगा।

इस फैसले से इनकम टैक्स में छूट की आस लगाए बैठे मध्यम वर्ग के नौकरी पेशा व्यक्तियों को तगड़ा झटका लगा है। इस निर्णय के तहत ढाई लाख से ज्यादा की कमाई पर 10 प्रतिशत टैक्स चुकाना होगा। पिछले साल बजट के दौरान इनकम टैक्स की छूट की सीमा को दो लाख से बढ़ाकर ढाई लाख कर दिया गया था।

इनकम टैक्स स्लैब इस प्रकार है:

आय-टैक्स

ढाई लाख रूपये तक- कोई टैक्स नहीं

2.5 से 5 लाख रूपये तक-10 प्रतिशत

5 से 10 लाख रूपये तक- 20 प्रतिशत

10 लाख रूपये और इससे ऊपर- 30 प्रतिशत