मोदी ने मनरेगा का नहीं, गरीबों का मज़ाक उड़ाया है: कांग्रेस

मोदी ने मनरेगा का नहीं, गरीबों का मज़ाक उड़ाया है: कांग्रेस

नई दिल्ली  : मनरेगा को संप्रग सरकार की ‘विफलताओं का स्मारक’ बताये जाने की प्रधानमंत्री की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने सवाल किया कि नरेन्द्र मोदी के इतने सारे साल मुख्यमंत्री रहने के बाद भी गुजरात गरीब राज्य क्यों बना हुआ है ? लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का मोदी द्वारा जवाब देने के तुरंत बाद सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि प्रधानमंत्री ने अच्छा भाषण दिया है, वह भाषण देने की कला और शब्दों का प्रयोग अच्छी तरह से करना जानते हैं लेकिन भाषण से पेट नहीं भरता।

उन्होंने कहा कि मनरेगा जैसे कार्य का मजाक उडाना, गरीबों का मजाक उड़ाना है इसलिए प्रधानमंत्री ने एक तरह से गरीबों का मज़ाक उदय है। ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना गरीबों के लिए, गरीबों के लाभ के लिए बनायी गई थी। अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने खड़गे को टोकते हुए कहा कि उन्होंने उन्हें केवल एक स्पष्टीकरण पूछने की अनुमति दी है। हालांकि खड़गे जानना चाहते थे कि मोदी के राज्य में शासन करने के बाद भी गुजरात गरीब क्यों है ? सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव जानना चाहते थे कि क्या किसानों के ऋण माफी देने की कोई योजना है। कुछ समय तक शोरगुल के बाद सदन ने राष्ट्रपति के धन्यवाद प्रस्ताव को ध्वनिमत से पारित कर दिया। इस दौरान राष्ट्रपति के अभिभाषण पर कम से कम 10 संशोधन को नकार दिया गया।