जान समस्याओं पर प्रदेश सरकार संवेदनहीन: बीजेपी

जान समस्याओं पर प्रदेश सरकार संवेदनहीन: बीजेपी

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश सरकार पर संवेदनहीन होने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार का तंत्र माननीय उच्च न्यायालय के आदेश पर ही हरकत में आता है।

भाजपा प्रवक्ता हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार का पूरा तंत्र जन समस्याओं के प्रति इतना संवेदनहीन है कि बिना उच्च न्यायालय के आदेश वह सक्रिय ही नहीं होता। भाजपा प्रवक्ता ने कहा मामला चाहे गन्ना किसानों का हो जिनका पिछला बकाया भुगतान उच्चन्यायालय के आदेश के बावजूद आज तक नहीं हो सका और न्यायायल को सम्बन्धित जिलाधिकारियों को अवमानना नोटिस जारी करना पड़ा। चाहे वह स्वाइन फ्लू का हो।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा यह अत्यन्त गम्भीर मसला है कि प्रदेश में न्यायालय के आदेश का अनुपालन भी सुनिश्चित नहीं हो पा रहा है।

हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि तरह स्वाइन फ्लू प्रदेश में पसर रहा है स्वाइन फ्लू की रोकथाम को लेकर सरकार बड़ी-बड़ी तैयारी की बात करती है लेकिन संवेदनहीनता का आलम यह है कि जरूरतमंद को अविलम्ब टेमीफ्लू व 3 लाख मास्क अविलम्ब वांटे जाने हेतु मा0 उच्च न्यायालय का आदेश जारी करना पड़ा।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा सरकारी तन्त्र की शिथिलता का आलम यह है कि वर्ष 2013-2014 चिकित्सा शिक्षा व चिकित्सा एवम् स्वास्थ के लिए प्रदेश को आवंवित धन का उपयोग न कर पाने व उसे सर्पमण करने पर सी.ए.जी. को अपनी रिपोर्ट में तल्ख टिप्पणी करनी पड़ी। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सूबे के सरकारी तंत्र का जन सरोकारों के प्रति उदासीनता स्वयं में प्रमाण है कि सरकार आम जनता की समस्याओं के प्रति कितनी संवेदनशील है ?

Lucknow, Uttar Pradesh, India