सपा सरकार का बजट झूठ का पुलिंदा: रालोद

सपा सरकार का बजट झूठ का पुलिंदा: रालोद

लखनऊ । राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश  अध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान ने प्रदेश  सरकार द्वारा पेष किये गये बजट पर प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि इस बजट में किसानों के साथ साथ आमजनमानस के हितों की अनदेखी की गयी है। सपा सरकार का बजट एक बार फिर झूठ का पुलिंदा साबित हुआ। 

श्री चैहान ने कहा कि प्रदेष के किसानों, गरीबों, कमजोर वर्गों और अल्पसंख्यक समुदायों के विकास एवं कल्याण के साथ साथ प्रदेष में सुदृढ़ कानून व्यवस्था लागू करने, बिजली, सड़क, सिंचाई, षिक्षा सभी मुददों पर प्रदेष सरकार डबल सिफर रही है। बजट में बन्धक रखकर कर्ज लेने वाले 757000 किसानों का 1779 करोड़ रूपये का कर्ज माफ करने की बात सिर्फ दिखावा क्योंकि अभी तक वर्तमान सरकार ने गन्ना किसानों को उनका बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं कर पायी। उन्होंने कहा कि षिक्षा के क्षेत्र में प्रलोभन देकर वर्तमान उ0प्र0 सरकार ने नौजवानों का वोटबैंक तो ले लिया परन्तु पूरे सत्र टी0ई0टी0 प्रषिक्षुओं तथा षिक्षामित्रों पर पुलिसिया अत्याचार करती रही। कानून व्यवस्था के मामले में कानून की धज्जियां उड़ायी तथा अपराधों पर नियंत्रण नहीं रख पायी जिसका खामियाजा आमजनमानस को भुगतना पड़ा।

श्री चैहान ने कहा कि वर्ष 2015-2016 को किसान वर्ष घोषित करना बेईमानी होगी क्योंकि किसानों की दुरूगति सपा कार्यकाल से ज्यादा किसी सरकार के कार्यकाल में नहीं हुयी होगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गा्रम सड़क योजना, डाॅ0 राम मनोहर लोहिया समग्र गा्रम विकास योजना, इन्दिरा आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम की योजनाएं भी अन्य योजनाओं की तरह खोखली साबित हो जायेगी और उन पर प्रस्तावित धन भी भ्रष्ट मंत्री और अफसर डकार जायेगे।

श्री चैहान ने कहा कि महिला सम्मान कोष के गठन के लिए 100 करोड़ रूपये की बजट व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है जो कि निराधार है क्योंकि 1090 वूमेन पाॅवर लाइन योजना भी धराषायी चल रही है क्योंकि प्रदेष में महिलाओं के साथ हैवानियत और दरिंदगी अभी बंद नहीं हुयी है। जिससे महिला उत्पीड़न का ग्राफ बढ़ा है। उन्होंने कहा कि छलावे की राजनीति के साथ प्रदेष की जनता को गुमराह करने वाला बजट खोखला है मगर अब प्रदेष का किसान तथा जनता इनके छलावे में आने वाला नहीं हैं।

Lucknow, Uttar Pradesh, India