‘आवाम’ पर 'आप' का पलटवार

‘आवाम’ पर 'आप' का पलटवार

भाजपा से मिलीभगत का लगाया आरोप 

नई दिल्ली। ‘आवाम’ के आरोपों पर पलटवार करते हुए आप नेता आशीष खेतान ने कहा कि आवाम ने जो दो चेक्स दिखाए हैं, और जिन्होंने स्टिंग किया है उन कंपनियों से मिलकर इससे साफ हो जाता है इन कंपनियों की जानकारी आवाम को थी। भाजपा के पास सत्ता है, भाजपा के पास सारे अधिकार हैं हमारी जांच करने के लिए वो जांच करा ले।

खेतान ने कहा कि पीयूष गोयल ने कहा आम आदमी पार्टी मनी लॉडरिंग कर रही है, अब उनका दायित्व है वो आरोप सिद्ध करें। आवाम की पीसी से साफ होता है ये बीजेपी से मिले हैं। अगर सरकार जांच नहीं शुरू करती है तो खुद हम एजेंसियों के पास जांच के लिए जाएंगे। शाम तक केंद्र सरकार जांच शुरू कर देगी।

वहीं आप नेता कुमार विश्वास ने कहा कि बीजेपी-कांग्रेस जिनकी 80 फीसदी फंडिंग अज्ञात है उन्होंने आवाम के माध्यम से ये प्रश्न उठाया है। हमने सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखा है, ये आग्रह किया है तीनों पार्टियों के पिछले पांच वर्षों की जांच एसआईटी से कराएं, जहां गड़बड़ मिले उसकी सदस्यता रद्द करें। सहमति के लिए सोनिया जी और अमित शाह को पत्र लिखा है।