एक्मे ने राष्ट्रीय खेल सचिवालय को सौंपा खेल गांव

एक्मे ने राष्ट्रीय खेल सचिवालय को सौंपा खेल गांव

लखनऊ:  भारत में हरित प्रोद्यौगिकी के विकास में अग्रणी एक्मे ने आज खेल गांव को खेलों के 35 वें संस्करण की मेजबानी हेतू राष्ट्रीय खेल सचिवालय को सौंप दिया है, जिनका आयोजन केरल राज्य में 31 जनवरी से 14 फरवरी 2015 के बीच किया जाएगा।

केरल SIDCO अन्तर्गत आने वाला मेनामकुलम में स्थित यह अत्याधुनिक राष्ट्रीय खेलगांव 28 एकड़ भूमि में फैला है, जहां तकरीबन 5000 से ज़्यादा खिलाड़ी और अधिकारी खेलों में हिस्सा लेने के लिए इकट्ठा हुए हैं। 

इस खेल गांव की खास बात यह है कि इनके निर्माण के लिए पहली बार अत्याधुनिक प्रीफैब्रिकेशन प्रोद्यौगिकी का इस्तेमाल किया गया है, जिसके चलते इसका निर्माण कार्य 10 माह की रिकाॅर्ड अवधि में पूरा किया गया, और साथ ही सरकारी खजाने में भी भारी बचत हुई।

प्रीफैब्रिकेशन प्रोद्यौगिकी के द्वारा एक्मे ने 35 वें राष्ट्रीय खेल गांव का निर्माण किया है जोकि न केवल ‘हरित’ और ऊर्जा प्रभावी है बल्कि लागत प्रभावी होने के साथ-साथ समय की भी बचत करती है।  

राष्ट्रीय खेल सचिवालय के प्रति आभार व्यक्त करते हुए एक्मे के सीईओ समीर शरन ने बताया, ‘‘एक्मे को गर्व है कि इसे 35 वंे राष्ट्रीय खेलों के साथ जुड़ने का मौका मिला है और साथ ही इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में विश्वस्तरीय मानदण्ड स्थापित करने का अवसर प्राप्त हुआ है। राष्ट्रीय खेलों के लिए इस खेल गांव का निर्माण कार्य पूरे समपर्ण और विशेषज्ञता के साथ रिकाॅर्ड अवधि में किया गया है। हम इस अत्याधुनिक प्रोद्यौगिकी के इस्तेमाल के द्वारा राष्ट्र निर्माण हेतू तत्पर हैं ताकि विनिर्माण कार्य में समय और धन की बचत के साथ-साथ कार्बन फुटप्रिन्ट को भी कम किया जा सके।’’