विश्व कप में लागू होगा सुपर ओवर का नियम

विश्व कप में लागू होगा सुपर ओवर का नियम

दुबई : मेलबर्न क्रिकेट मैदान पर 29 मार्च को होने वाला आईसीसी विश्व कप का फाइनल मुकाबला अगर टाई होता है तो नए विश्व चैंपियन का फैसला सुपर ओवर के माध्यम से होगा। विश्व कप 2011 की तरह ही इस बार भी विश्व कप फाइनल टाई रहने पर ‘सुपर ओवर’ के जरिये फैसला होगा।

आईसीसी मुख्यालय पर बुधवार को एन श्रीनिवासन की अध्यक्षता में हुई बैठक में आईसीसी बोर्ड ने यह फैसला लिया। इसमें आईसीसी टूर्नामेंटों में धीमी ओवर गति के अपराधों की स्थिति में आईसीसी आचार संहिता के उपयोग में बदलाव को भी मंजूरी दी गई। अब आईसीसी टूर्नामेंट में किसी दूसरी श्रृंखला में धीमी ओवर गति के कारण निलंबन या पिछले इस तरह के अपराध का असर कप्तान पर नहीं पड़ेगा।

इसके मायने हैं कि सिर्फ विश्व कप मैचों में ही धीमी ओवर गति का कसूरवार पाये जाने पर कप्तानों पर निलंबन का खतरा होगा। विश्व कप से पहले धीमी ओवरगति के कसूरवार रहने पर टूर्नामेंट के बाद होने वाली पहली द्विपक्षीय श्रृंखला में सजा दी जायेगी। बोर्ड ने आस्ट्रेलिया के फिलीप ह्यूज की मौत के मद्देनजर खिलाड़ियों की सुरक्षा के मसले पर भी बात की। इसमें क्रिकेट हेलमेटों से बेहतर सुरक्षा के लिए आईसीसी की मदद से हो रही रिसर्च के बारे में भी जानकारी दी गई।