आये दिन स्थानांतरण सरकार की असफलता: भाजपा

आये दिन स्थानांतरण सरकार की असफलता: भाजपा

लखनऊ : भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के पुलिस प्रशासन में आए दिन किए जा रहे स्थानान्तरण को सरकार की असफलता बताया हैं। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि ताश के पत्ते की तरह व्यूरोक्रेशी को फेटने से प्रदेश की कानून व्यवस्था नहीं ठीक होगी। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सपा सरकार लगभग 3 वर्ष के कार्यकाल में आए दिन जिस तरह से अधिकारियों के स्थानान्तरण कर रही है उससे जहां एक तरफ सरकारी कोष पर भारी दबाव पड़ रहा हैं। वहीं दूसरी तरफ प्रशासन पर नियन्त्रण कर पाना अधिकारियों के लिए कठिन हो जाता है। और प्रशासन में अव्यवस्था पनपती है। उन्होंने कहा कि आलम यह है कि मुख्यमंत्री जी तक को यह कहना पड़ रहा है कि पुलिस लोगों को फर्जी परेशान न करें।

प्रदेश प्रवक्ता हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि जिस 94 पुलिस अधिकारियों को स्थानान्तरित किया गया है वह हास्यास्पद हैं। इसे कानून व्यवस्था ठीक होने वाली नहीं। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि यदि देखा जाय तो सपा सरकार ने अब तक 5 बार प्रमुख सचिव गृह 6 बार डी.जी.पी. व तीन बार ए.डी.जी. कानून व्यवस्था को बदल चुकी हैं यदि इन अधिकारियों के स्थानान्तरण मात्र से कानून व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त हो जाती तो प्रदेश में जिस तरह से अपराधियों के दुःसाहस बढ़े है वह न होता। अपराधियों के प्रभाव से बेहद सुरक्षित मानी जानी वाली जेल भी सुरक्षित नहीं रह गई। थाना, पुलिस चैकी, कोर्ट कचहरी सभी जगह अपराधिक घटनाएं दर्ज की जा रही है। लखनऊ के कल्याणपुर व बंथरा में तथा कल मेरठ में घटी घटनाएं इसकी गवाह हैं।

प्रदेश की राजधानी में प्रतिदिन अपराधी वारदातों को अंजाम दे रहे है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि आए दिन स्थानान्तरण से प्रशासन में अस्थिरता बढ़ती है। जब तक अधिकारी अपने कार्यक्षेत्र को समझता है उसे वहां से बाहर फेंक दिया जाता है। तथा प्रशासनिक अधिकारी प्रभावी ढ़ग से काम नहीं कर पाता। 

हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था तभी ठीक हो सकती है जब ऊपर से नीचे तक ईमानदार, सक्षम व कर्तव्यनिष्ठ अधिकारियों को तैनाती दी जाये व उन्हें बिना राजनैतिक हस्तक्षेप के स्वतन्त्र ढंग से कार्य करने व निर्णय लेने का अधिकार दिया जाय। भाजपा प्रवक्ता का मानना है कि प्रदेश में लचर कानून व्यवस्था की बदहाली के कारण प्रदेश का औद्योगिक विकास पूरी तरह ठप है। 

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि कानून व्यवस्था की हालात यह है कि इन्डियन सेलुलर एशोसियेशन के अध्यक्ष पंकज महेन्द्रू ने कहा कि प्रदेश में निवेश्कों का काम कर पाना टेढ़ी खीर है। उन्होंने कहा कि पंकज महेन्दू्र का बयान प्रदेश के ठप पड़ते औद्योगिक विकास के प्ररिपे्रक्ष्प में सरकार के लिए आइना हैं। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि कानून व्यवस्था ठीक करने के लिए सरकारको अपनी रीति-नीति की समीक्षा करनी होगी। स्थानान्तरण मात्र से कानून व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त नहीं होगी। स्थानान्तरण केवल भ्रष्टाचार व कर्तव्यनिष्ठा के पालन में दोषी पाये गये या अक्षम सिद्ध हुए अधिकारियों का ही होना चाहिए।

Lucknow, Uttar Pradesh, India