महेन्द्र अवस्थी, राजीव अग्रवाल को मिला स्मृति-साहित्य-सम्मान

महेन्द्र अवस्थी, राजीव अग्रवाल को मिला स्मृति-साहित्य-सम्मान

लखनऊ: संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश एवं हेल्प यू एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार 24.01.2015 को संत गाडगे जी महाराज प्रेक्षागृह, संगीत नाटक अकादमी, विपिन खण्ड, गोमती नगर, लखनऊ में मासिक सांस्कृतिक कार्यक्रम “हेल्प यू-सिलसिला एक सहयोग का” के अन्तर्गत द्धितीय सांस्कृतिक कार्यक्रम “हेल्प यू सांस्कृतिक संध्या के रंग-किन्नरों के संग“ का रंगारंग व विचारात्मक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य हेल्प यू एजूकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा किन्नरों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने की अपील करना था।

कार्यक्रम का उद्घाटन राष्ट्रगान से हुआ व मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति शबीहुल हसनैन, हाईकोर्ट लखनऊ ने दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।

हेल्प यू एजूकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट के फाउण्डर ट्रस्टी हर्ष वर्धन अग्रवाल ने मुख्य अतिथि का सम्मान प्रतीक चिन्ह व पुष्प गुच्छ द्वारा किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति शबीहुल हसनैन ने सुप्रसिद्व कथाकार एवं ‘किन्नर कथा’ उपन्यास के लेखक महेन्द्र भीष्म को “राजीव अग्रवाल स्मृति-साहित्य-सम्मान, 2015“ से नवाजा। साहित्यकार डाॅ0 श्रीमती दया दीक्षित, हिन्दी प्रवक्ता, डी0ए0वी0 कालेज, कानपुर, किन्नर गुरू शबनम मौसी, पूर्व विधायक, अनूपपुर, मध्य प्रदेश विधान सभा एवं किन्नर गुरू पायल सिंह, अध्यक्ष, पायल फाउण्डेशन लखनऊ, को हेल्प यू सम्मान से सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में गीत गायन के लिये सुफलता त्रिपाठी,  राखी अग्रवाल व सीमा अग्रवाल, वैष्णवी अवस्थी, गीतिका वेदिका (इंदौर) व रिया रोज (अयोध्या) को सम्मानित किया गया। नाटक के सभी कलाकारों व सहयोगियों की सूची निम्नलिखित है:-

1.जगत राज सिंह ‘दायजू’-डाॅ0 जी.एस. निरंजन

2.रानी आभा सिंह-मीना द्विवेदी

3.पंचम सिंह (दीवान जी)-आकाश पाण्डेय

4.निरंजना (दायी)-सोनी सिंह

5.तारा (किन्नर गुरू)-पायल सिंह (किन्नर गुरू)

6.मातिन-गीतिका वेदिका

7.चन्दा-अंजली सिंह (किन्नर गुरू)

8.सोना-जिज्ञासा बाजपेयी

9.महंत-गुरूदत्त पाण्डेय

10.युवा साधु-सानू

11.मातिन का जेठ/किन्नर-योगेश शर्मा

12.मनीष (तारा का भतीजा)-अखिलेश त्रिपाठी

13.किन्नर-1-राजेश मेहरोत्रा

14.सूत्रधार-सतीश भारतीयम्

15.किन्नर-2-सुमन सिंह (किन्नर गुरू)

16.अन्य-1. 2. 3. 4. 5. 

मंच परे

1.प्रकाश व्यवस्था-संजय त्रिपाठी/तमाल बोस

2.मुख सज्जा-मनोज वर्मा

3.संगीत संयोजन-विजयंत सिंह

4.वेश-भूषा-सुधा द्विवेदी

5.मंच सज्जा-धर्म श्री/तमाल बोस

6.सह निर्देशन-अर्शी श्रीवास्तव

7.निर्देशन-अजय द्विवेदी

8.नाट्य रूपांतरण व लेखक-महेन्द्र भीष्म

9.विशेष सहयोग-मिथिलेश लखनवी, गीतिका वेदिका, वैष्णवी अवस्थी

10.संचालक-नवल शुक्ला को हेल्प यू सम्मान से नवाजा गया।

इस अवसर पर न्यायमूर्ति शबीहुल हसनैन ने कहा, “हेल्प यू एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट ने प्रत्येक माह एक सांस्कृतिक कार्यक्रम ’सिलसिला एक सहयोग का’ प्रारम्भ किया है। हेल्प यू एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट का प्रदेश की छिपी हुई प्रतिभाओं को सामने लाने का प्रयास सराहनीय है। पिछले माह ’एक शाम अवध के नाम’ में अवध के विभिन्न रंगों से रूबरू हुये और साथ ही गंगा-जमुनी तहज़ीब के प्रतीक डा0 योगेश प्रवीन जी से संवाद द्वारा अवध की संस्कृति के सम्बन्ध में कई जानकारियाँ मिलीं। इसी क्रम में ’हेल्प यू एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट’ ने एक और संवेदनशील अध्याय जोड़ा है और वह है अभी तक हाशिये पर रहते आये किन्नर समाज की पीड़ा। इस संवेदनशील मुद्दे को हेल्प यू एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट ने अपने मंच पर लाकर अच्छा कार्य किया है। आज किन्नर समाज के लिए सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया है, जो कि अभूतपूर्व है। इसलिए हेल्प यू एजुकेशनल एवं चैरिटेबल ट्रस्ट साधुवाद का पात्र है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India