शाह अब्दुल्ला का निधन, सलमान बने नए शासक

शाह अब्दुल्ला का निधन, सलमान बने नए शासक

रियाद: अल कायदा के खिलाफ युद्ध में अमेरिका का साथ देने वाले और महत्वपूर्ण सुधारों के जरिये मुस्लिम समाज को आधुनिक बनाने की कोशिश करने वाले सउदी अरब के शाह अब्दुल्ला का निधन हो गया।

उनके स्थान पर उनके सौतेले भाई सलमान को विश्व के शीर्ष तेल निर्यातक और इस्लाम के आध्यात्मिक केंद्र यानी सउदी अरब का नया शासक बनाया गया है।

रॉयल कोर्ट ने 'गहरा दुख और शोक' जताते हुए एक बयान में कहा कि अब्दुल्ला का निधन स्थानीय समयानुसार रात एक बजे हुआ। उनकी उम्र लगभग 90 वर्ष थी। उनके सौतेले भाई सलमान को सउदी अरब का नया शासक बनाया गया है। 79-वर्षीय सलमान रक्षामंत्री रहे हैं। इसके अलावा वह राजधानी रियाद के पूर्व गवर्नर भी रह चुके हैं।

अब्दुल्ला के सौतेले भाइयों में से एक अन्य मुकरेन को नया शहजादा बनाया गया है। बयान में कहा गया कि अब्दुल्ला का अंतिम संस्कार आज दोपहर की नमाज के बाद किया जाएगा और नागरिकों को नए शाह एवं शाही महल के शहजादे के प्रति निष्ठा का संकल्प लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा।

रॉयल कोर्ट ने अब्दुल्ला के निधन की वजह को उजागर नहीं किया, लेकिन उन्हें दिसंबर में निमोनिया के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था और वह एक नली की मदद से सांस ले रहे थे। वर्ष 2005 में गद्दी संभालने वाले अब्दुल्ला के शासनकाल के दौरान अरब देशों में सउदी अरब, अमेरिका का एक महत्वपूर्ण सहयोगी रहा है। हाल ही में वह सीरिया और इराक में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ हवाई हमले करने के लिए अमेरिकी नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल हो गया था।

अब्दुल्ला द्वारा किए गए महत्वपूर्ण सुधारों में महिलाओं के लिए बड़े अवसरों की राहें खोलना भी शामिल था। अपने बेहद सतर्क एवं संकीर्ण विचारों वाले पूर्ववर्तियों की तुलना में अब्दुल्ला ने तेल के धनी अपने देश के माध्यम से पश्चिम एशिया को एक खास आकार देने में मदद की।