लखनऊ बनी अपराधियों की राजधानी: डा0 बाजपेयी

लखनऊ बनी अपराधियों की राजधानी: डा0 बाजपेयी

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश में बढ़ती अपराधिक घटनाओं पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की हैं। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने कहा कि लखनऊ अपराधियों की राजधानी बन गयी है। कल अधिवक्ता निखिल गुप्ता की बमों से हत्या अपराधियों के हौसला बुलन्द होने के प्रमाण है। 

डा0 बाजपेयी ने कहा कि पिछले दो महीने में केवल लखनऊ में 36 से ज्यादा हत्या, दो दर्जन से ज्यादा लूट की बड़ी-छोटी घटना सिद्ध करती है कि प्रदेश सरकार व लखनऊ के प्रशासन ने अपराधियों के सामने हाथ खड़े कर दिये है।डा0 बाजपेयी ने कहा कि जहां पुलिस अपराधियों के आगे नतमस्तक है वहीं आम जनता की सुनवाई थानों में नहीं हो रही हैं। जहरीली शराब से 53 मौत भी लखनऊ प्रशासन के माथे पर कंलक है। डा0 बाजपेयी ने कहा कि राजधानी लखनऊ की कानून-व्यवस्था का हाल ये है जहां प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री से लेकर सरकार के मुख्य सचिव और पुलिस महानिकदेश बैठते है तो दूर-दराज के हालात को आसानी से समझा जा सकता है।

डा0 बाजपेयी ने कहा कि प्रदेश की जनता आज घर, सड़क, गली, चैराहे सहित जेल तक में सुरक्षित नहीं हैं। डा0 बाजपेयी ने अधिवक्ता हत्याकाण्ड में लखनऊ प्रशासन को कटघरे में खड़ा करते हुए पूछा कि कितनी लाशों का इन्तजार कर रही है अखिलेश सरकार ?

Lucknow, Uttar Pradesh, India