मुजफ्फरपुर में उपद्रव, 3 लोगों की मौत

मुजफ्फरपुर में उपद्रव, 3 लोगों की मौत

लापता छात्र की लाश मिलने पर उग्र हुई भीड़, बस्ती फूंकी 

मुजफ्फरपुर/सरैया: नौ जनवरी से लापता छात्र भारतेंदु की लाश मिलने पर सरैया के अजीतपुर में जमकर उपद्रव हुआ। भीड़ ने अपहरण के आरोपी के घर समेत बस्ती के दो दर्जन घरों को फूंक दिया। कई बाइक व चरपहिया वाहन भी आग के हवाले कर दी। मुजफ्फरपुर आईजी ने घटना में तीन के मारे जाने की पुष्टि की है। मामले में हत्या के मुख्य आरोपित व 10 हमलावरों को दबोचा है। इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस तैनात की गई है। मुजफ्फरपुर शहर में रात में फ्लैग मार्च निकाला गया।

बताया गया है कि बहिलवारा भुआल उत्तरी टोला निवासी भारतेन्दु का अजीतपुर की एक लड़की से प्रेम प्रसंग था। 9 जनवरी को भारतेन्दु लापता हो गया। दो दिन बाद उसके पिता कमल सहनी ने सरैया थाने में अजीतपुर के सदाकत अली पर अपहरण की एफआईआर करायी। सदाकत भारतेन्दु की प्रेमिका का भाई बताया जाता है।

इसी बीच, रविवार सुबह सदाकत के घर के पास कुत्तों ने जमीन खोद डाली जिससे शव का हाथ बाहर आ गया। स्वेटर से उसकी पहचान की गई। सूचना के बाद मौके पर भीड़ जुट गई। इसके बाद लोगों ने उपद्रव शुरू कर दिया। भीड़ ने मारपीट भी की। इसमें मो. अलताफ व उसका बेटा फिरोज जख्मी हो गए। एसकेएमसीएच में मो. अलताफ ने दम तोड़ दिया। घटनास्थल पर दो झुलसे हुए शव भी मिले हैं। शाम चार बजे भारतेन्दु की लाश निकाली गई और देर शाम पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच लाई गयी।

अजीतपुर की घटना को लेकर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने मुजफ्फरपुर के एसएसपी व आईजी से बात कर तत्काल कार्रवाई करने को कहा। नई दिल्ली से फोन पर प्रसाद ने पहले स्थानीय कार्यकर्ताओं से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। प्रेम प्रसंग में अपहरण कर हत्या की गयी है। जलने से दो की मौत हो गयी है। मारपीट में एक मौतहुई है। हत्या के मुख्य आरोपी और दस हमलावर दबोचे गए हैं।

India