शार्ली हेब्डो पर आतंकी हमला निंदनीय और क्रूर: अरविन्द शुक्ला

शार्ली हेब्डो पर आतंकी हमला निंदनीय और क्रूर: अरविन्द शुक्ला

लखनऊ। पेरिस में व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्डो पर हमले के बाद शोक संदेश और तीखी प्रतिक्रिया का सिलसिला जारी है। उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन की लखनऊ इकाई के अध्यक्ष अरविन्द शुक्ला ने. बयान जारी कर हमले की निंदा की और पीडितों के परिजनों के लिए अपनी संवेदना व्यक्त की। उन्होने हमले को पूरी तरह से निंदनीय और क्रूर बताया है.। हमले में कम से कम दो बंदूक़धारियों ने एक फ़्रांसीसी व्यंग्य पत्रिका 'शार्ली हेब्डो' के पेरिस कार्यालय पर हमला कर 12 लोगों को मार डाला है। इस घटना में सात लोग घायल भी हुए हैं। मारे गए लोगों में दस पत्रकार और दो पुलिसकर्मी शामिल हैं।

बयान जारी कर अरविन्द शुक्ला ने  फ्रांसीसी पत्रिका के दफ्तर पर हुए हमले की घोर निंदा की है। उन्होने हमले को चरमपंथी हमला बताया है और इसकी कड़ी आलोचना की है। उन्होने कहा कि  निहत्थे नागरिकों को निशाना बनाने वाली ऐसी कोई भी कार्रवाई सभी सिद्धांतों और मानवीय मूल्यों के खिलाफ है। उन्होंने शार्ली एब्डो पर हुए हमले को कट्टरपंथ की लहर का हिस्सा बताया है।

अरविन्द शुक्ला ने निर्दोष लोगों पर की जाने वाली सभी कार्रवाई इस्लाम के सिद्धांत और सीख के विपरीत बताई है।  उन्होने कहा कि इस्लाम में किसी भी तरह की हिंसा की जगह नहीं है.। यह हमला इस्लाम के उसूलों और मूल्यों पर हमला है। शुक्ला ने कहा कि अब पूरी दुनिया को एकजुट होकर आतंकवाद से मुठभेड़ करने की जरूरत है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India