साईकिल चलाने वाले पर्यावरण की रक्षा करते हैं

साईकिल चलाने वाले पर्यावरण की रक्षा करते हैं

साइकिल मैराथन में अखिलेश ने चलाई 10 किलो मीटर साइकिल

मुख्यमंत्री ने विकलांगजन को उपकरण प्रदान किये

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज इटावा में सैफई साइकिल मैराथन का हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ किया। इस साइकिल मैराथन में लगभग 1500 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। मैराथन लायन सफारी से प्रारम्भ होकर इटावा के मुख्य मार्गों से होती हुई सैफई स्थित मास्टर चंदगीराम स्टेडियम पर समाप्त हुई, जहॉ प्रतिभागियों को मुख्यमंत्री ने पुरस्कार प्रदान किये। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने स्वयं भी इटावा के सेंट मैरी स्कूल से लेकर 10 किलो मीटर साइकिल चलाई। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग साइकिल चलाते है वे अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखते हैं। साथ ही, पर्यावरण की रक्षा करते हुए देश को समृद्ध भी बनाते है। साइकिल चलाने में बैलैंस की आवश्यकता होती है। इसी प्रकार अपने जीवन में भी समन्वय और बैलैंस बनाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि साइकिल आम आदमी की सवारी है और प्रदेश सरकार आम आदमी के हितों के लिये निरन्तर काम कर रही है। उन्होने समाजवादी पेंशन योजना, लोहिया आवास, कामधेनु डेयरी योजना आदि योजनाओं की चर्चा करते हुए कहा कि इससे आम आदमी का विकास हुआ है और जीवन स्तर भी ऊंचा उठ रहा है। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में खेलों के विकास हेतु किये जा रहे कार्यों की भी जानकारी दी। सैफई महोत्सव में साइकिल मैराथन की विशिष्ट पहचान है, जिसमें प्रदेश के विभिन्न जिलों से प्रतिभागी भाग लेते हैं।

श्री यादव ने इस मौके पर स्टेडियम में विकलांगजन को उपकरण प्रदान किये। इनमें 1207 ट्राई साइकिल, 34 व्हील चेयर, 270 बैसाखी, 52 कान की मशीन, 9 ब्लाइंड स्टिक और 5 छड़ी वितरित की गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार विकलांगजन के कल्याण के लिये निरंतर कार्य कर रही है। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India