आरएसएस और मुस्लिम लीग की विचारधारा एक जैसी: मोहसिना किदवई

आरएसएस और मुस्लिम लीग की विचारधारा एक जैसी: मोहसिना किदवई

लखनऊ: कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मोहसिना किदवई ने कहा है कि आरएसएस व मुस्लिम लीग की विचारधारा में कोई अंतर नहीं है। मुस्लिम लीग ने देश का एक बंटवारा करा दिया। अब आरएसएस दूसरा बंटवारा कराने पर तुला हुआ है।

मोहसिना किदवई रविवार को यहां शहीद स्मारक के निकट गांधी सभागार में प्रदेश कांग्रेस के अंबेडकर जयंती समापन समारोह में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि एनडीए सरकार ने गांधी जी की विचाराधारा छोड़ दी है। अब वह देश को आरएसएस की विचारधारा पर चलाना चाहती है। इससे देश का ताना-बाना तबाह हो जाएगा।

समारोह के मुख्य अतिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि गांधी जी ने डॉ. अंबेडकर को संविधान बनाने का काम इसलिए दिया क्योंकि वह न सिर्फ योग्य थे बल्कि दलितों का मन जानते थे। उन्होंने कहा कि दलितों को बांटने की कोशिश हो रही है। दलितों को इससे सतर्क रहना होगा, क्योंकि एकजुट रहकर ही वे सत्ता हासिल कर सकते हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने इस मौके पर खुलासा किया कि उत्तर प्रदेश के दो क्षेत्रीय दलों ने सुशील कुमार शिंदे को राष्ट्रपति नहीं बनने दिया था। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी उन्हें राष्ट्रपति बनाना चाहती थीं। इस तरह शिंदे के रूप में देश को दूसरा दलित राष्ट्रपति मिलता।

Lucknow, Uttar Pradesh, India