कोटेदार की मनमानी से ग्रामीण परेशान

कोटेदार की मनमानी से ग्रामीण परेशान

पंकज विश्वकर्मा 

मलिहाबाद काकोरी: मलिहाबाद क्षेत्र के एक गाँव में गरीबो के हक़ का राशन कोटेदार द्वारा न बाटे जाने पर ग्रामीणो व कोटेदार के बीच गहरी नोकझोंक हुई। बवाल बढता देख कोटेदार दुकान बन्द कर भाग निकला।  ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों से शिकायत की परन्तु अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई जिसको लेकर  ग्रामीणों में भारी आक्रोश व्याप्त है। 

मलिहाबाद के हबीबपुर रहमानखेडा गांव के करीब सौ गामीण कोटेदार राजू की राशन दुकान पर पहुंचे और राशन न बाटे जाने की  वजह जाननी चाही तो कोटेदार ने साफ मनाकर दिया और अपनी ऊपर तक पहुँच की धमकी देने लगा । इस बात पर ग्रामीणों व कोटेदार के बीच नोकझोंक शुरू हो गयी,  बवाल बढता देख कोटेदार दुकान बन्द कर भाग गया । स्थानीय जनता का कहना है कि हम लोगों को रशन न देकर कोटेदार चोरी छिपे बेच दे रहा है।ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया है कि गाव में कुछ अपने चहेतों को कोटेदार एक- एक बोरी गेहूं दे रहे हैं । जब हमारे प्रतिनिधि ने ग्राम प्रधान से बात की तो प्रधान ने बताया की सप्लाई इंस्पेक्टर से बात की हुयी थी तो इंस्पेक्टर ने बताया कि बीपीएल कार्ड धारको को ही राशन दिया जायेगा ।ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि चीनी कोटेदार अपनी मर्जी से देता है।  दो तीन महीना पहले मिटटी का तेल बांटा  गया था तबसे अभी अब तक दोबारा मिटटी का तेल नहीं बाटा गया है ।

गावँ के राजेश रावत ,कुसमा देवी, रामकुमार,राधे लाल प्रजापति, गुड़ीया,सजीवन लाल,राम सागर,मंजू यादव सहित तमाम ग्रामीणो का कहना है कि यह कोटेदार अपनी मर्जी से राशन बाटता है अक्सर दुकन बन्दकर चला जाता है । जिसको लेकर सभी ग्रामीणो ने उच्च अधिकारियो से शिकायत भी की लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुयी है।

Uttar Pradesh, India