IPL 9- RCB के पहाड़ स्कोर को पार न कर सके सनराइजर्स

IPL 9- RCB के पहाड़ स्कोर को पार न कर सके सनराइजर्स

बेंगलुरु: एबी डिविलियर्स और विराट कोहली की बड़ी पारियों की बदौलत रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने मंगलवार को  एकतरफा मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद को 45 रन से शिकस्त देकर नौवें इंडियन प्रीमियर लीग में अपने अभियान की धमाकेदार शुरूआत की।

डिविलियर्स ने 42 गेंदों पर सात चौकों और छह छक्कों की मदद से 82 रन बनाये जबकि विराट कोहली ने 51 गेंदों पर 75 रन की पारी खेली जिसमें सात चौके और तीन छक्के शामिल हैं। डेथ ओवरों में युवा सरफराज खान ने दस गेंदों पर पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 35 रन की तूफानी पारी खेली जिससे आरसीबी टास गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 227 रन का विशाल स्कोर खड़ा करने में सफल रहा।

डेविड वार्नर ने केवल 25 गेंदों पर चार चौकों और पांच छक्कों की मदद से 58 रन बनाये लेकिन उनके अलावा कोई भी अन्य बल्लेबाज आरसीबी के खेमे में खलबली नहीं मचा पाया। उनके बाद दूसरा उच्चतम स्कोर आशीष रेडडी का रहा जिन्होंने 18 गेंदों पर 32 रन बनाये। सनराइजर्स आखिर में छह विकेट पर 182 रन तक ही पहुंच पाया। आरसीबी की तरफ से शेन वाटसन और यजुवेंद्र चाहल ने दो दो विकेट लिये।

सनराइजर्स ने क्रिस गेल को जल्दी पवेलियन भेज दिया था लेकिन इसके बाद उसके गेंदबाजों को जूक्षना पड़ा। डिविलियर्स ने क्लीन हिटिंग की तो कोहली ने खाली स्थानों से गेंद निकालने की महारत के साथ लंबे शाट लगाने के अपने कौशल का भी अच्छा नमूना पेश किया। इन दोनों ने तेज गेंदबाजों और स्पिनरों किसी को भी नहीं बख्शा।

डिविलियर्स ने सनराइजर्स के मुख्य स्पिनर कर्ण शर्मा पर लगातार दो छक्के जड़कर शुरू में ही उनका आत्मविश्वास डिगा दिया था। सनराइजर्स की परेशानी यहीं पर समाप्त नहीं हुई। आशीष नेहरा तीसरे ओवर की पहली गेंद करने के बाद पांव में दर्द के कारण मैदान छोड़कर बाहर चले गये। आशीष को यह ओवर पूरा करना पड़ा जिसमें डिविलियर्स ने दो चौके जड़े और 26 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया। इसके कुछ देर बाद कोहली भी कर्ण पर लंबा छक्का लगाकर 50 रन के पार पहुंचे जो उनका 40वां अर्धशतक है।

रेडडी को एक और ओवर करना पड़ा जिसमें डिविलियर्स ने फिर से दो छक्के लगाये। दीपक हुडडा ने इनमें से पहले छक्के को कैच में बदलने की नाकाम कोशिश भी की। जब लग रहा था कि ये दोनों बल्लेबाज शतक पूरा करने में सफल रहेंगे लेकिन तभी भुवनेश्वर ने कोहली की गिल्लियां बिखेर दी। कोहली अब तक टी20 में शतक नहीं लगा पाये हैं।

एक दिग्गज खिलाड़ी गया तो दूसरे ने क्रीज पर कदम रखा। शेन वाटसन ने कर्ण शर्मा पर लगातार तीन छक्के लगाकर वार्नर एंड कंपनी को कोहली के विकेट का जश्न नहीं मनाने दिया। कर्ण ने अपने चार ओवर में 57 रन लुटाये।

मुस्तफिजुर रहमान ने डिविलियर्स और वाटसन को लगातार गेंदों पर आउट किया लेकिन सरफराज ने सनराइजर्स को राहत की सांस नहीं लेने दी। उन्होंने भुवनेश्वर की पांच गेंदों पर चार चौके और एक छक्का ठोक दिया। इस ओवर में कुल 28 रन बने। उनकी बदौलत आरसीबी ने आखिरी दो ओवरों में 41 रन बटोरे। सनराइजर्स के लिये मुस्तफिजुर ही बल्लेबाजों पर कुछ अंकुश लगा पाये। उन्होंने 26 रन देकर दो विकेट लिये।

सनराइजर्स जब बल्लेबाजी के लिये उतरा तो शिखर धवन की विश्व टी20 से चली आ रही खराब फार्म जारी रही, लेकिन वार्नर ने शुरू से ही कोहली को सोचने के लिये मजबूर किया। उन्होंने आरसीबी के आक्रमण का जवाब आक्रामक बनकर दिया। एडम मिल्ने पर चौका और छक्का जड़कर शुरूआत की और फिर हर्षल पटेल और धवन की गिल्लियां बिखरने वाले परवेज रसूल की गेंदें भी छक्के के लिये भेजी।

कोहली के लिये चाहल कुछ अवसरों पर तुरूप का इक्का रहे हैं लेकिन वार्नर ने इस लेग स्पिनर के पहले ओवर में दो दर्शनीय छक्के लगाकर केवल 21 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा कर दिया था। कोहली को तुरंत ही वाटसन को गेंद सौंपनी पड़ी जिन्होंने आस्ट्रेलियाई टीम के अपने साथी रहे वार्नर को डीप मिडविकेट पर कैच करा दिया। सनराइजर्स की आधी उम्मीद इसके साथ ही समाप्त हो गयी।  

विकेट गिरने लगे थे और सनराइजर्स का स्कोर पांच विकेट पर 101 रन हो गया था। आरसीबी की जीत महज औपचारिकता लग रही थी। आशीष और इयोन मोर्गन ने छठे विकेट के लिये 46 रन जोड़कर हार का अंतर कम किया। चाहल ने अपने बीच के ओवरों में दो विकेट लिये लेकिन आशीष ने दो छक्के जड़कर उनका गेंदबाजी विश्लेषण बिगाड़ा। मोर्गन ने 18 गेंदों पर नाबाद रन बनाये लेकिन वह प्रभावित नहीं कर पाये। कर्ण शर्मा ने जरूर 17 गेंदों पर नाबाद 26 रन बनाकर निचले क्रम में एक विकल्प के तौर पर खुद को पेश किया।