प. बंगाल में मोदी ने बोल ममता पर हमला

प. बंगाल में मोदी ने बोल ममता पर हमला

मदारीहाट। प. बंगाल में चुनावी मौसम में रैलियों का दौर तेज हो गया है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मदारीहाट में रैली कर सीएम ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला। मोदी ने अपने भाषण में पुल हादसे और शारदा घोटाले का भी जिक्र किया।

ममता को निशाने पर लेते हुए पीएम ने कहा, मोदी जब से प्रधानमंत्री बने हैं और मीटिंग बुलाते हैं तो दीदी उसका बहिष्कार करती हैं और इसके साथ आपसे भी धोखा करती हैं। दीदी दिल्ली आती हैं तो सोनिया जी का आशीर्वाद जरूर लेती हैं पर गठबंधन तो लेफ्ट-दीदी का है। इनको बंगाल की चिंता नहीं है, गठबंधन की चिंता है।

चाय बागान का मुद्दा उछालते हुए मोदी ने कहा कि चाय बागान के लिए सरकार की तरफ से एक वेलफेयर ऑफीसर होना चाहिए कि नहीं। ये राज्य सरकार की जिम्मेदारी होनी चाहिए।

अगर आप को जो सुनना नहीं चाहते उनको निकालकर बाहर फेंक देना चाहिए। पहली बार भारत सरकार का मंत्री चाय बागान के लोगों के साथ गया। पहली बार यहां के मजदूरों के हितों के लिए चाय कंपनियों पर सरकार का नियंत्रण चाहा जिससे आपका भला हो, पर दीदी और उनकी कंपनियां मिलकर कोर्ट से स्टे ले आए और आपको धोखा दिया। पर मोदी रूकने वाला नहीं है और वो आपका भला करके रहेगा।

पुल हादसे का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि कोलकाता में एक ब्रिज गिर गया तो एक मुखिया का क्या फर्ज बनता है। जो मर रहा है पहले उसकी चिंता करो पर उन्होंने कहा कि ये तो लेफ्ट वालों की तरफ से ठेका दिया गया था। इतना बड़ा हादसा हो गया, मैं दीदी से पूछना चाहता हूं कि जब ब्रिज बन जाता तो आप क्या कहतीं कि मैंने आपके लिए ब्रिज बनवाया है, तब लेफ्ट का अभिनंदन न करते। यहां मनी का खेल चलता है।

ये एक्ट ऑफ गॉड नहीं ये एक्ट ऑफ फ्रॉड है। आपकी सरकार के शासन का संदेह इस घटना के द्वारा भगवान ने भेजा है कि आज पुल गिरा है कल पूरा बंगाल ऐसा हो जाएगा। चंदन की लूट यहां बड़े पैमाने पर होती है। 1 किलो चावल के ऊपर 27 रूपये का खर्च किया जाता है पर जितना लाभ मिलना चाहिए उतना नहीं मिलता है और एक मजदूर का हक मारकर दीदी आप शासन नहीं कर सकते।

मोदी ने कहा, शारदा चिट फंड में गरीबों के पैसे गये वो पैसा वापस आना चाहिए कि नहीं। जेल जाना चाहिए कि नहीं। और अगर दीदी उनको बचाती है तो उनको घर वापस भेजना चाहिए कि नहीं। लेफ्ट वालों ने जिन्होंने 34 साल तक खूनी खेल खेला है नको वापस नहीं लाना है। एक बार मौका दीजिए हम आपको बताएंगें कि सरकार कैसे चलती है। जहां भी भाजपा की सरकार है वहां केवल विकास, विकास, विकास ही हुआ है।