राहुल द्रविड़ होंगे टीम इंडिया के अगले कोच?

राहुल द्रविड़ होंगे टीम इंडिया के अगले कोच?

नई दिल्ली: भारतीय टीम के लिए टी-20 विश्व कप खत्म और साथ ही खत्म हुआ रवि शास्त्री का करार। इसके बाद बीसीसीआई नए कोच की तलाश में है और इसके लिए पूर्व कप्तान और मौजूदा अंडर-19 और इंडिया-ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ को ये जिम्मेदारी सौंपने के बारे में सोच रही है। खबरों के अनुसार बीसीसीआई की सलाहकार समिति ने इस बाबत जब द्रविड़ से बात की तो उन्होंने इस पर विचार करने की बात कही। मतलब द्रविड़ ने इंकार नहीं किया है।

पिछली बार 2015 विश्व कप के बाद जब द्रविड़ से इस बारे में पूछा गया था, तो उन्होंने इसके लिए इंकार कर दिया था और कहा था कि वो परिवार के साथ समय बिताना चाहते हैं और कोच की फुलटाइम जॉब के लिए वो तैयार नहीं। इसीलिए उन्होंने इंडिया ए और अंडर-19 टीम का कोच बनना मुनासिब समझा। पिछली बार उनके साथ सौरव गांगुली का नाम भी चर्चा में था, लेकिन अब वो इस ज़िम्मेदारी को नहीं निभा सकते क्योंकि अब वो बंगाल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष हैं।

द्रविड़ की बात करें तो वो आईपीएल के नौंवे सीज़न में दिल्ली डेयरडेविल्स टीम के मेंटॉर का भार संभालेंगे। ऐसे में वो पूरी तरह से मेंटॉर और कोचिंग के रोल को निभा रहे हैं और उनसे बेहतर कोच इस समय शायद ही कोई और हो। द्रविड़ ने राजस्थान रॉयल्स के लिए भी पहले शानदार भूमिका निभाई। इस साल उन्ही की कोचिंग में भारतीय अंडर-19 टीम ने वर्ल्ड कप में फ़ाइनल तक का सफ़र तय किया।

खबरें ये भी हैं कि इस बार बीसीसीआई 2019 विश्व कप तक के लिए कोच चाहता है और ऐसा कोच जो भारतीय युवा बल्लेबाज़ों को टेस्ट के लिए भी तैयार कर सके ऐसा इसलिए कि अगले 1 साल में भारत को करीब 18 टेस्ट मैच खेलने हैं। मंगलवार को सलाहकार समिति की बैठक है जिसमें राहुल द्रविड़ का नाम उठ सकता है।

वैसे ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज शेन वॉर्न ने भी अपनी दावेदारी इसके लिए पेश कर दी है। शेन वॉर्न ने कहा कि 'भारतीय टीम को कोच बनने का मौका मिला तो जरूर सोचूंगा, लेकिन मुझे अपने व्यस्त कार्यक्रम से समय निकालना होगा। भारतीय टीम कमाल की और बेहद प्रतिभाशाली है और उनके साथ काम करना बड़ी बात होगी।' 2015 विश्व कप के बाद पूर्व कोच डंकन फ्लेचर का करार खत्म हुआ और तब से भारतीय टीम के साथ कोई कोच नहीं है। रवि शास्त्री बतौर निदेशक टीम इंडिया के साथ रहेहैं. लेकिन अब बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर ने साफ़ कर दिया है कि अब टीम इंडिया को एक फुलटाइम कोच चाहिए।

अनुराग ठाकुर ने कहा, 'रवि शास्त्री का करार टी-20 विश्व कप तक ही था और नए कोच के नाम का फैसला क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी या सलाहकार समिति करेगी। इस समिति में सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण जैसे दिग्गज हैं। ये फ़ैसला वर्ल्ड कप फ़ाइनल के बाद और ये 9 अप्रेल से शुरू होने वाले आईपीएल से पहले भी लिया जा सकता है, लेकिन अनुराग ठाकुर ने ये भी साफ़ किया कि इस बार कोई दो पद नहीं होंगे इस बार टीम डायरेक्टर और फुलटाइम कोच की भूमिका एक ही शख़्स निभाएगा। बहरहाल रवि शास्त्री भी अपना क़रार के नवीनीकरण के लिए आवेदन दे सकते हैं।

रवि शास्त्री ने 2014 में टीम निदेशक का पद संभाला था। 2014 में इंग्लैंड को वनडे सीरीज़ में हराया। 2015 वनडे विश्व कप के सेमीफ़ाइनल में पहुंचे। 2016 में ऑस्ट्रेलिया में टी-20 सीरीज़ जीती और 2016 टी-20 विश्व कप के सेमीफ़ाइनल में हारे। शास्त्री का कार्यकाल उतार चढ़ाव भरा रहा, रवि शास्त्री फिर से अपना क़रार नया करवाने को आवेदन देते हैं या टीम इंडिया नए कोच के लिए तैयार हैं, इसे लेकर गहमागहमी शुरू हो गई है।