प्रदेश के हर कोने में ट्रामा सेन्टर स्थापित करेगी सरकार: अखिलेश

प्रदेश के हर कोने में ट्रामा सेन्टर स्थापित करेगी सरकार: अखिलेश

मुख्यमंत्री ने सैफई में किया इमर्जेंसी ट्रामा एवं बर्न सेन्टर का उद्घाटन 

सुघर सिहं 

सैफई: सैफई उ0प्र0 ग्रामीण आयुर्विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान के अंतर्गत संचालित नवनिर्मित 150 बेडेड इमर्जेंसी ट्रामा एवं बर्न सेन्टर का उद्घाटन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा किया गया। इस दौरान जिन प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन मुख्यमंत्री द्वारा किया गया उनमें रैन बसेरा तथा सीनियर रेजीडेन्ट हास्टल प्रमुख रहा। 

इस दौरान मुख्यमंत्री द्वारा 300 बेडेड बाल एवं महिला चिकित्सालय तथा 300 बेडेड् नर्सेज हास्टल का शिलान्यास भी किया गया। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश के पहले सरकारी क्षेत्र के फार्मेसी कालेज का भी लोकार्पण किया। 

उद्घाटन अवसर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि संस्थान में इमर्जेंसी ट्रामा एवं बर्न सेन्टर के बन जाने से सड़क दुर्घटना एवं अन्य हादसों में घायल मरीजों को तुरन्त चिकित्सकीय सहायता मिल सकेगी। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश सरकार का उद्देश्य प्रदेश के हर कोने में ट्रामा सेन्टर एवं मेडिकल कालेज स्थापित करने का है। अभी हाल ही में सरकार द्वारा झांसी में 500 बेडेड् तथा गाजीपुर में 500 बेडेड् ट्रामा सेन्टर बनाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि सुविधाओं के लिहाज से यदि स्मार्ट गाॅव की परिकल्पना की जायेगी तो सैफई पहले पायदान पर होगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नेताजी माननीय मुलायम सिंह यादव का यह सपना कि गाॅव में इलाज की सारी सुविधायें उपलब्ध हों इस दिशा में ग्रामीण आयुर्विज्ञान संस्थान खरा उतरता है। उन्होने संस्थान के विस्तार में निदेशक डा0 ब्रिगे0 टी0 प्रभाकर के कार्यों की सराहना की तथा कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जल्दी ही 300 बेडेड बाल एवं महिला चिकित्सालय भी चालू हो जायेगा। 

विशिष्ट अतिथि माननीय मंत्री लोकनिर्माण, सिंचाई एवं राजस्व विभाग शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि नेता जी माननीय मुलायम सिंह यादव का सपना रहा है कि इलाज को प्रत्येक गाॅव के गरीब से गरीब आदमी तक मुफ्त पहॅुचाया जाये। उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद बड़ी पहल करते हुए इलाज के लिए बनने वाले पर्चे की कीमत दस रूपये से एक रूपये कर दी गयी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा जन सरोकार से सम्बन्धित सभी क्षेत्रों में व्यापक स्तर पर कार्य किया जा रहा है इसमें चिकित्सा एवं चिकित्सा शिक्षा सबसे ऊपर है। 

राधे श्याम सिंह, माननीय राज्यमंत्री चिकित्सा शिक्षा उत्तर प्रदेश शासन ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शासन संभालते ही चिकित्सा एवं चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक कार्य किये। उन्होंने बताया कि जब सरकार बनी उस समय मात्र सात मेडिकल कालेज थे जो अब बढ़कर इक्कीस होने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि चिकित्सा के अभाव में कोई व्यक्ति अपनी जान न गवाये इसको ध्यान में रखकर ही सभी सरकारी अस्पतालों में जरूरी सुविधायें प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध करायी गयी हैं। 

संस्थान के निदेशक डा0 (ब्रिगे0) टी0 प्रभाकर ने ट्रामा सेन्टर की विशेषताओ के बारे में बताया कि संस्थान में बना यह इमर्जेंसी ट्रामा एवं बर्न सेन्टर उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त सीमावर्ती प्रदेशों जिसमें मध्य प्रदेश एवं राजस्थान के सड़क दुर्घटना में घायल मरीजों एवं जले मरीजों के त्वरित इलाज के लिए स्थापित किया गया है। इस 150 बेड के इमर्जेंसी ट्रामा एवं बर्न सेन्टर में हाइटेक माडयूलर आप्रेशन थियेटर के अलावा मोबाइल एंबुलेंस की व्यवस्था है। ट्रामा सेन्टर पूरी तरह से वातानुकूलित एवं 24 घंटे बिजली आपूर्ति के साथ अग्निशमन उपकरणों से लैस है। उन्होंने बताया कि इमर्जेंसी ट्रामा एवं बर्न सेन्टर में आर्थोपेडिक्स सर्जरी के अलावा जनरल सर्जरी एवं न्यूरो सर्जरी के लिए अलग-अलग वार्ड बनाये गये हैं। इसके अलावा रजिस्ट्रेशन एवं सभी प्रमुख जाॅचे यहाॅ उपलब्ध होंगी। घायल मरीजों को कुछ मिनटों के अन्दर चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से ट्रामा सेन्टर में ही सीटी स्कैन, एमआरआई, इमर्जेन्सी ओटी के अलावा आईसीयू की व्यवस्था की गयी है। ट्रामा एवं बर्न इमर्जेन्सी के लिए चिकित्सकों के साथ नर्सेज एवं पैरामेडिकल स्टाफ की टीम लगातार 24 घंटे उपलब्ध रहेगी। 

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि माननीय मंत्री लोकनिर्माण, सिंचाई एवं राजस्व विभाग शिवपाल सिंह यादव के अतिरिक्त राधे श्याम सिंह, माननीय राज्यमंत्री चिकित्सा शिक्षा प्रदेश सरकार, धर्मेन्द्र यादव, सांसद बदायूॅ, तेज प्रताप यादव, सांसद मैनपुरी, अंकुर यादव अध्यक्ष जिला परिषद, इटावा अनूप चन्द्र पाण्डेय, प्रमुख सचिव, चिकित्सा शिक्षा विभाग, डा0 वीएन त्रिपाठी, महानिदेशक, चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण, रधुराज सिंह शाक्य, विधायक सदर इटावा, संस्थान के निदेशक डा0 (ब्रिगे0) टी0 प्रभाकर, संकाय अध्यक्ष प्रो0 के0एम0 शुक्ला, चिकित्सा अधीक्षक डा0 (ब्रिगे0) एस0के0 गुप्ता, अपर निदेशक प्रशा0 राधाकृष्ण सिंह तथा पूर्व निदेशक प्रो0 जेवी सिंह आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम में संस्थान के फैकेल्टी मेम्बर, चिकित्सा अधिकारी, कर्मचारी, मेडिकल स्टूडेन्ट्स, पैरामेडिकल स्टूडेन्ट्स, नर्सिंग स्टूडेन्ट, फार्मेसी स्टूडेन्ट्, जूनियर एवं सीनियर रेजिडेन्ट्स ने भाग लिया। कार्यक्रम के अन्त में निदेशक डा0 (ब्रिगे0) टी0 प्रभाकर ने मुख्यमंत्री एवं अन्य अतिथियों का शाल ओढ़ाकर कर अभिनन्दन किया। 

Uttar Pradesh, India