उत्तराखंड: बागी कांग्रेसी विधायकों को दल-बदल का नोटिस

उत्तराखंड: बागी कांग्रेसी विधायकों को दल-बदल का नोटिस

नई दिल्ली : उत्तराखंड में हुई सियासी हलचल के बीच विधानसभा स्पीकर गोविंद सिंह कुंजवाल ने बागी विधायकों को दल-बदल विरोधी कानून के तहत नोटिस दिया है। वहीं बागी कांग्रेस विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को कहा कि मौजूदा कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई है। राज्य बीजेपी के प्रभारी श्याम जाजू ने कहा, 'हरीश रावत सरकार ने बहुमत खो दिया है। बागी कांग्रेस विधायकों के समर्थन से उत्तराखंड में नई सरकार बनाने के लिए आज (शनिवार को) बीजेपी के पास जरूरी पर्याप्त संख्या है।'

उत्तराखंड विधानसभा के स्पीकर गोविंद सिंह कुंजवाल ने कांग्रेस के नौ बागी विधायकों को दल-बदल विरोधी कानून के तहत नोटिस दिया है। इससे पहले कुंजवाल ने सीएम हरीश रावत और संसदीय कार्यमंत्री इंदिरा हृदयेश से मुलाकात की थी। रावत ने इसके बाद कहा कि सरकार बहुमत साबित कर सकती है। साथ ही उन्होंने बागी विधायकों को गलती मानकर माफी मांगने की मोहलत भी दी है।

70 सदस्यीय विधानसभा में बागी कांग्रेस विधायकों के साथ कांग्रेस के पास 36 विधायक हैं। सत्ताधारी पार्टी को प्रोग्रेसिव डेमोक्रेटिक फ्रंट के छह सदस्यों का भी समर्थन प्राप्त है। पर्वतीय राज्य में कांग्रेस विधानमंडल के एक वर्ग के बीच उपजे असंतोष के कारण उनके सामने आने से तेजी से बदल रहे घटनाक्रमों के बाद शुक्रवार रात पूर्व मुख्यमंत्री और सांसद भगत सिंह कोश्यारी, श्याम जाजू और महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित तीन सदस्यीय बीजेपी प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल के के पॉल से मुलाकात की।