झारखंड में दादरी जैसा काण्ड

झारखंड में दादरी जैसा काण्ड

भैंसों को बाजार ले जा रहे दो मुस्लिम युवकों को फांसी पर लटकाया 

रांची/डाल्टनगंज। झारखंड से सामने आई दादरी जैसी खबर ने एकबार फिर सभी को हैरान कर दिया है। रांची से लगभग 100 किमी दूर लातेहार जिले के बालूमाथ के जंगलों में 8 भैंसों को बाजार ले जा रहे दो युवकों को पशु संरक्षण समिति के लोगों ने पीटा और फिर पेड़ से लटकाकर उन्हें फांसी दे दी।

अल्पसंख्यक समुदाय के दोनों युवकों को पीटने से पहले उनके हाथ पीछे से बांध दिए गए थे और मुंह में कपड़ा ठूंस दिया गया था। मृतकों की पहचान हेरगंज थाना क्षेत्र नवादा गांव निवासी मजलूम अंसारी (35) और आजाद खान उर्फ इब्राहिम (15) के रूप में हुई है। ऐसी खबरें आई हैं जिसमें दावा कर इस हत्या के पीछे हिंदू कट्टरवादी ताकतों का हाथ बताया गया है। लातेहार के पुलिस अधीक्षक अनूप बर्थरे का कहना है कि इन लोगों की बहुत ही नृशंस तरीके से हत्या की गई है।

जानकारी के अनुसार ग्रामीणों को जब घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शवों के साथ रांची-चतरा मार्ग को जाम कर दिया। सूत्रों के मुताबिक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज और फायरिंग भी की। ग्रामीणों की पत्थरबाजी से अधिकारियों के भी घायल होने की खबर है।

पुलिस के मुताबिक दोनों के मारने की वजह पता नहीं चल सकी है। इस घटना को अंजाम देने वाले लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है। जब लोग गिरफ्तार होंगे तभी वजह का भी पता चलेगा। पुलिस के मुताबिक जिन लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया है, उनकी पहचान भी कर ली गई है।

India