हमारे किसान भी पुष्प उत्पादन की तरफ ध्यान दें: राज्यपाल

हमारे किसान भी पुष्प उत्पादन की तरफ ध्यान दें: राज्यपाल

लखनऊः उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज राष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान द्वारा आयोजित ‘रोज एण्ड ग्यालोडियस पुष्प प्रदर्शनी‘ में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि पुष्प प्रकृति का दिया हुआ अनमोल तोहफा है। फूलों को देखकर कुछ देर के लिए लोग अपनी पीड़ा भूल जाते हैं। पुष्प प्रदर्शनी के माध्यम से अनेक प्रजाजियों के फूल देखने को मिलते हैं। फूल अब व्यावसायिक स्तर पर प्रयोग किये जाते हैं। हमारे किसान भी पुष्प उत्पादन की तरफ ध्यान दें। उन्होंने कहा कि फूलों की खेती को व्यापार और उद्योग से जोड़ा जाय जिससे किसान अधिक से अधिक लाभ अर्जित करें। 

राज्यपाल ने लखनऊ की संस्कृति की प्रशंसा करते हुए कहा कि लखनऊ साहित्य नगरी के साथ-साथ क्रीडा, संगीत, नृत्य व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजनों के लिए जाना जाता है। आजकल लखनऊ में आनन्द का वातावरण है। लखनऊ महोत्सव के साथ-साथ पुष्प प्रदर्शनी का भी लोग आनन्द ले रहे हैं।

श्री नाईक ने इस अवसर पर एनबीआरआई के वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की गयी हल्दी की उन्नत ‘केसरी‘ का लोकार्पण किया तथा प्रदर्शनी में विजेताओं को पुरस्कृत भी किया। राज्यपाल ने राजभवन में 27 एवं 28 फरवरी को आयोजित प्रादेशिक पुष्प प्रदर्शनी में सबको आमंत्रित भी किया।

Lucknow, Uttar Pradesh, India