असम में मोदी ने गांधी फैमिली पर साधा निशाना

असम में मोदी ने गांधी फैमिली पर साधा निशाना

डिबरूगढ़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को असम के डिबरूगढ़ में एक पारंपरिक नगाड़े को बजाकर राज्य में बीजेपी के चुनावी अभियान की शुरूआत कर दी है। इस मौके पर पीएम मोदी ने अप्रत्यक्ष रूप से कांग्रेस के गांधी परिवार पर भी निशाना साधा। बगैर किसी का नाम लिए प्रधानमंत्री ने कहा कि संसद में गतिरोध पैदा करने के लिए सिर्फ 'एक परिवार' जिम्मेदार है जिसने अहम विधेयक और नीतियों को पारित करने के काम में रोड़ा अटकाया है। मोदी ने यह भी कहा कि उन्हें लगता है कि ऐसा करके यह परिवार 2014 में मिली चुनावी हार का बदला ले रहा है।

राज्य में अप्रैल महीने में होने वाले चुनाव में बीजेपी को मौका दिए जाने की बात कहते हुए पीएम मोदी ने कहा 'विपक्ष में ऐसे कई नेता हैं जो मेरा विरोध करने के बावजूद संसद चलने देना चाहते हैं लेकिन एक परिवार तो इतना सख्त है कि वह राज्यसभा भी चलने नहीं देता।'

उधर राहुल गांधी ने पीएम के इस वार पर जवाब देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का काम देश चलाने का है, बहाने बनाने का नहीं। पिछले 1.5 साल से नरेंद्र मोदी पीएम हैं, अब उन्हें देश चलाने का काम करना चाहिए। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने यह भी दावा किया कि किसानों, मजदूरों के साथ साथ अब उद्योगपति भी रो रहे हैं क्योंकि उन्हें शिकायत है कि सरकार उनका काम ही नहीं कर रही है।

 

गौरतलब है कि इस महीने के अंत में बजट सत्र शुरू होने वाला है और सरकार को उम्मीद है कि वह जीएसटी समेत राज्यसभा में अटके कई अहम बिलों को पारित कर पाएगी। बता दें कि राज्यसभा में कांग्रेस बहुमत में है और बीजेपी को उम्मीद है कि ज्यादा से ज्यादा राज्यों में चुनाव जीतकर वह इस स्थिति को विपरीत कर सकेगी। अप्रैल से पांच राज्यों में चुनाव शुरू हो जाएंगे जिसमें असम भी शामिल है जहां कांग्रेस की सरकार है। पीएम मोदी ने डिबरूगढ़ में कहा कि कांग्रेस ने राज्य के कल्याण की पूरी तरह अनदेखी की है और अब असम का विकास तभी मुमकिन हो सकता है जब राज्य सरकार और केंद्र के बीच सामंजस्य बैठ पाए।