पासपोर्ट अब एक हफ्ते में

पासपोर्ट अब एक हफ्ते में

नई दिल्ली: सामान्य स्थिति में अब नया पासपोर्ट एक हफ्ते के भीतर हासिल किया जा सकेगा। आवेदक को इसके लिए केवल चार दस्तावेज देने होंगे। यह जानकारी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपने ट्विटर खाते के माध्यम से 25 जनवरी को ट्वीट के जरिए दी है। इसके लिए आवश्यक दस्तावेज होंगे आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड और शपथपत्र। गौरतलब है कि अभी पासपोर्ट बनवाने में काफी समय लग जाता है और आवेदक परेशान होते हैं।

सुषमा ने ट्वीट कर एक हफ्ते में पासपोर्ट बनवाने के 3 स्टेप- बताये। उन्होंने कहा, 'यदि आप आवेदन के साथ आधार, वोटर आईडी कार्ड और पैन कार्ड के जमा करते हैं और उसके साथ कोई भी क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं होने का शपथपत्र देते हैं, तो हम आपको पासपोर्ट जारी कर देंगे।' उन्होंने बताया, 'पुलिस वेरीफिकेशन बाद में होगा।' सुषमा के  अनुसार, आप पासपोर्ट संबंधी सेवाओं के लिए सबसे नजदीक की पांच उपलब्ध तारीखों में से किसी एक तारीख का चुनाव अपॉइंटमेंट के लिए कर सकते हैं।

विदेशमंत्री सुषमा स्वराज के ट्वीट के अनुसार अब पुलिस वेरीफिकेशन बाद में होगा। ऐसे में आपको आवेदन देते समय सावधान रहना होगा, अन्यथा जानकारी गलत होने पर पासपोर्ट कैंसल हो जाएगा। चूंकि इसमें आपको अपना आधार कार्ड भी देना होगा, इसलिए आपकी संपूर्ण जानकारी का ऑनलाइन वेरीफिकेशन हो जाएगा। वोटर आईडी और पैन कार्ड की जांच भी डेटाबेस के जरिए पूरी की जाएगी, इसलिए गलत जानकारी देने से बचें।

नए नियम के मुताबिक, आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड के अलावा फॉर्मेट एनेक्सचर 1 के साथ एक शपथपत्र देना होगा। इसमें नागरिकता और परिवार का विवरण भी देना पड़ेगा। यह भी बताना होगा कि आवेदक का क्रिमिनल बैकग्राउंड तो नहीं है।

सरकार यह कदम पासपोर्ट जारी करने के लिए पुलिस सत्यापन प्रक्रिया को सुधारने और उसे आसान बनाने के प्रयासों के तहत उठाने जा रही है। विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, '...इसलिए पहली बार आवेदन करने वालों- जिनके साथ आधार कार्ड, वोटर कार्ड, पैन कार्ड, और एक शपथपत्र शामिल है- को बाद में पुलिस सत्यापन के आधार पर पासपोर्ट जारी किया जाएगा। इससे बिना किसी अतिरिक्त भुगतान के तेजी से पासपोर्ट जारी हो सकेगा।'

India