अंडर-19 वर्ल्‍डकप: भारत की आयरलैंड पर जीत

अंडर-19 वर्ल्‍डकप: भारत की आयरलैंड पर जीत

टीम इंडिया ने अंडर-19 वर्ल्‍डकप के अपने पहले मुकाबले में आयरलैंड को 79 रन से हरा दिया। ग्रुप 'डी' का यह मुकाबला बांग्‍लादेश के मीरपुर में खेला गया। आयरलैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में नौ विकेट 268 रन बनाए, जवाब में आयरलैंड की टीम 48.1 ओवर में 189 रन बनाकर आउट हो गई। भारतीय तेज गेंदबाजों ने कसी हुई बॉलिंग की और आयरलैंड को खुलकर नहीं खेलने दिया। बल्लेबाज सरफराज खान को 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया।

भारत की ओर से सरफराज खान ने 70 गेंदों में 74 रन की तेज पारी खेली, वहीं वाशिंगटन सुंदर ने 71 गेंदों में 62 रन बनाकर पारी को संभाला। आयरलैंड की ओर से जोशुआ लिटिल और रॉरी एंडर्स ने सबसे अधिक तीन-तीन विकेट लिए। अब आयरलैंड को मैच जीतने के लिए 269 रन बनाने होंगे।

टीम इंडिया की ओर से राहुल बॉथम और अवेश खान ने शानदार तेज गेंदबाजी का प्रदर्शन किया। बॉथम ने आठ ओवर में 15 रन देकर तीन विकेट लिए, वहीं तेज गेंदबाज अवेश खान ने 10 ओवर में 24 रन देकर दो विकेट झटके। महिपाल लोमरॉर ने भी 8.1 ओवर में 28 रन देकर दो विकेट अपने नाम किए। 

46 रन पर दो विकेट गिर जाने के बाद बल्लेबाजी करने उतरे सरफराज ने शुरुआत में टिककर खेलने की कोशिश की। तभी रिकी भुई 34 के निजी स्कोर पर आउट हो गए। उस समय टीम का स्कोर 48 रन था, इस प्रकार टीम इंडिया ने 48 रन पर ही 3 विकेट खो दिए। भुई ने 54 गेंदें खेलीं और 6 चौके लगाए। टीम ने चौथा विकेट भी 55 के स्कोर पर खो दिया। अब खान और वाशिंगटन सुंदर पर टीम को संकट से उबारने की जिम्मेदारी थी। इन दोनों ने उम्मीदों पर खरा उतरते हुए कोई और विकेट नहीं गिरने दिया।

सरफराज ने जमने के बाद आक्रामक बैटिंग की और 70 गेंदों में 74 रन बनाकर आउट हुए, जिसमें 7 चौके शामिल रहे। उनको हैरी टेक्टर की गेंद पर लॉरकैन टकर ने विकेट के पीछे कैच किया। आउट होने से पहले खान ने सुंदर के साथ 5वें विकेट के लिए 110 रन की साझेदारी की, जिससे टीम इंडिया एक नई टीम के आगे लगभग सम्मानजनक 

सरफराज के साथ 110 रन का साझेदारी करने के बाद वाशिंगटन सुंदर ने एक छोर थामे रखा और छठवें विकेट के लिए महिपाल लोमरॉर (17) के साथ 24 रन जोड़े। इसके बाद उन्होंने सातवें विकेट के लिए जीशान अंसारी के साथ 40 रनों की शानदार साझेदारी करके टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाया। सुंदर 46वें ओवर में एंडर्स की गेंद पर आउट हुए। उन्होंने इस पारी में महज तीन चौके लगाए, लेकिन उन्होंने जरूरत के हिसाब से बल्लेबाजी करते हुए टीम को संकट से उबारा।

सुंदर के आउट होने के बाद के बाद जीशान अंसारी ने 36 गेंदों में 36 रन बनाकर टीम का स्कोर 250 के पार ले जाने में अहम भूमिका निभाई और आवेश खान के साथ आठवें विकेट के लिए 31 रन जोड़े।

टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही और कप्तान ईशान किशन तीन गेंदें खेलने के बाद बिना खाता खोले ही चलते बने। इसके बाद ऋषभ पंत और रिकी भुई ने 46 रन की साझेदारी करते हुए पारी को संभालने की कोशिश की, लेकिन पंत 22 गेंदों में महज 6 रन बनाकर रॉरी एंडर्स की गेंद में विकेटकीपर लॉरकैन टकर को कैच थमा बैठे। इसके बाद टीम के स्कोर में दो रन ही जुड़े थे, कि भुई (34) के निजी स्कोर पर एंडर्स की गेंद पर एडम डेनिसन द्वारा लपक लिए गए।

मजबूत ऑस्‍ट्रेलिया का टूर्नामेंट से हटने का फैसला भी टीम इंडिया की खिताबी संभावनाओं को मजबूत बना रहा है। ऑस्‍ट्रेलिया ने सुरक्षा कारणों के चलते प्रतियोगिता से अपना नाम वापस ले लिया है। दूसरी तरफ आयरलैंड को ऑस्ट्रेलिया के हटने के बाद टूर्नामेंट में जगह दी गयी है। उसका कोई भी ऐसा क्रिकेटर नहीं है जिसने सीनियर स्तर पर क्रिकेट खेली हो। उसका सबसे कम उम्र का क्रिकेटर भारतीय मूल का 15 वर्षीय लेग स्पिनर वरुण चोपड़ा है।