भारत-फ्रांस के बीच महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर

भारत-फ्रांस के बीच महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर

नई दिल्ली। भारत और फ्रांस के बीच कई महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर हुए हैं। हैदराबाद हाउस में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बीच हुई बातचीत के बाद इन समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए। मोदी-ओलांद की मौजूदगी में फाइलों का आदान-प्रदान हुआ।

राफेल पर मोदी ने कहा कि हमने 36 राफेल जेट पर समझौता किया है। कुछ वित्तीय मुद्दों को लेकर सब कुछ पूरा हो चुका है और मुझे उम्मीद है कि इन्हें भी जल्द सुलझा लिया जाएगा।

मोदी ने कहा कि भारत-फ्रांस के रिश्ते हर परीक्षा में पास हो चुके हैं। फ्रांस से 18 साल पुराने रिश्ते हैं। आतंकवाद से फ्रांस जूझ रहा है, पेरिस और पठानकोट हमले दोनों के लिए चुनौती हैं। आतंकवाद से लड़ने के लिए मानवता में विश्वास रखने वाले देशों को एक साथ आना नितांत जरुरी है।

वहीं ओलांद ने कहा कि इस वक्ता शांति को खतरा बना हुआ है। पेरिस हमले के दौरान पीएम मोदी का समर्थन के लिए उन्हें धन्यवाद करना चाहूंगा। हम भारत की तरफ से दोस्ती का हाथ बढ़ाने को कभी नहीं भूल सकते।

अपने तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन यानी आज फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद आज दिल्ली पहुंचे। यहां ओलांद सबसे पहले राजघाट पहुंचे और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद वह राष्ट्रपति भवन पहुंचकर राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाकात की। यहां ओलांद ने गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि बनाए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया।  आतंकवाद पर ओलांद ने कहा कि फ्रांस आईएस से निपटने में कोई कसर बाकी नहीं रखेगा।

ओलांद ने कहा कि आतंकवाद भारत और फ्रांस दोनों के लिए समान चुनौती है। दोनों देशों पर आतंक का खतरा है। आतंकवाद पर भारत के साथ सहयोग बढ़ाया जाएगा। फ्रांस किसी भी तरह के आतंकवाद से नहीं डरता। हम आईएस को खत्म करने के लिए हर कदम उठाएंगे। इसके बाद ओलांद हैदराबाद हाउस पहुंचे जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी अगवानी की।

India