मारा गया 'जिहादी जॉन', IS  की पुष्टि

मारा गया 'जिहादी जॉन', IS की पुष्टि

बेरूत। खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस ने 'जिहादी जॉन' की मौत की पुष्टि करते हुए कहा कि जिहादी जॉन नवंबर में उसके सीरियाई गढ़ रक्‍का शहर में एक ड्रोन हमले में मारा गया था। जिहादी जॉन को बंधकों का सिर क्रूरतापूर्वक कलम करने और उनका वीडियो बनाकर रिलीज करने के लिए जाना जाता है।

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष नवंबर में अमरीकी सेना ने दावा किया था कि आईएसआईएस आतंकवादी जिहादी जॉन सीरिया में हुए उसके हवाई हमलों में मारा गया। अमरीकी सेना के अनुसार जिहादी जॉन की मौत इस्लामी स्टेट के लिए एक बड़ा झटका था। हालांकि आईएस ने इस खबर की तब तक पुष्टि नहीं की थी।

अमरीकी सैन्य अभियान के प्रवक्ता कर्नल स्टीवन वारेन ने कहा था 'हम काफी हद तक आश्वस्त हैं कि जिस लक्ष्य यानी जिहादी जॉन को हम मारना चाहते थे वह मारा गया है।' उन्होंने वेबकास्ट लाइव के जरिये पेटागन कवर करने वाले संवाददाताओं को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बहरहाल इसकी पुष्टि करने में कुछ समय लग जाएगा कि जिहादी जॉन मारा जा चुका है। उन्होंने कहा, 'यह ड्रोन हमला था। हथियार प्रणाली ने वांछित लक्ष्य को भेद दिया।'