जहानाबाद जाने से रोके गए विनय कटियार

जहानाबाद जाने से रोके गए विनय कटियार

कानपुर। फतेहपुर के जहानाबाद में हुई सांप्रदायिक हिंसा के बाद वहां जा रहे बीजेपी के फायरब्रांड नेता विनय कटियार को हिरासत में लेने के बाद रिहा कर दिया गया। सोमवार की सुबह कानपुर के जाजमऊ पुल से उनको हिरासत में लेकर सर्किट हाउस में रखा गया था। फिलहाल वह फतेहपुर के लिए रवाना हो गए गए हैं।

विनय कटियार ने कहा कि जहानाबाद में जो भी हो रहा है उसके लिए अखिलेश सरकार जिम्मेदार है, वहां यूपी सरकार दंगे करा रही है। मुझे छोड़कर वहां हर किसी को जाने दिया जा रहा है, जिन लोगों ने वहां हिंसा की है, उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए। मैं चाहता हूं कि वहां शांति-व्यवस्था जल्द से जल्द बहाल हो। बताते चलें कि पिछले सप्ताह विश्व हिंदू परिषद के एक कार्यक्रम के दौरान जबरदस्त हंगामा हुआ था। दो सांप्रदायिक गुटों के बीच हुई फायरिंग और पथराव में कई लोग जख्मी हो गए थे। पुलिस और पीएसी को वहां लाठी चार्ज करना पड़ा था। इसके बाद प्रशासन ने फतेहपुर में धारा 144 लागू कर दिया था।

विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया के समर्थन में जुलूस निकालने को लेकर दो सांप्रदायिक गुट आपस में भिड़ गए थे। जहानाबाद के दारागंज इलाके में विहिप के लोग जुलूस निकाल रहे थे। इस पर एक संप्रदाय के लोगों ने आपत्ति जताई। इसके बाद दोनों संप्रदाय के बीच मारपीट शुरू हो गई थी।