इस बार क्षेत्ररक्षकों पर बरसे धोनी

इस बार क्षेत्ररक्षकों पर बरसे धोनी

मेलबर्न : मेलबर्न वनडे में मिली हार के बाद भारतीय कप्तान एमएस धोनी ने खराब क्षेत्ररक्षण के लिए खिलाड़ियों की खिंचाई की। धोनी ने कहा कि अच्छे क्षेत्ररक्षण से करीब 15 रन बचाए जा सकते थे। मेलबर्न में हार के बाद भारत वनडे सीरीज हार चुका है। ऑस्ट्रेलिया ने तीसरा वनडे जीतकर पांच मैचों की श्रृंखला में 3-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है। 

धोनी ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर मैच के बाद कहा, ‘‘यह हार पचाना मुश्किल है। हमने आज अच्छा क्षेत्ररक्षण नहीं किया। कम से कम तीन बाउंड्री हमें आसानी से रोकनी चाहिए थी।’’ भारतीय टीम के गेंदबाजों ने फिर से लचर प्रदर्शन किया और आस्ट्रेलिया को 296 रन का लक्ष्य हासिल करने दिया। विराट कोहली ने 117 रन बनाये लेकिन ग्लेन मैक्सवेल की 96 रन की पारी उस पर भारी पड़ गयी। धोनी ने कहा, ‘‘(बरिंदर) सरण के लिये आज आज का दिन अच्छा नहीं था और इसलिए उसके लिये मुश्किल पैदा हो गयी और मैं गेंदबाजों को रोटेट नहीं कर पायां’’

भारतीय कप्तान हालांकि अपने बल्लेबाजों के प्रदर्शन से खुश थे। उन्होंने कहा, ‘‘बल्लेबाजी कड़ी मेहनत कर रहे हैं लेकिन हम हम हमेशा 10 से 15 अतिरिक्त रनों की बात करते हैं। यह थोड़ा भिन्न विकेट था लेकिन बल्लेबाज इससे अधिक कुछ नहीं कर सकते थे। 295 रन का स्कोर अच्छा था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘रिषि और गुरकीरत ने अच्छी गेंदबाजी की इसतरह से अश्विन की अनुपस्थिति में कोई उनकी कमी पूरी कर सकता है। यह हमारे लिये थोड़ा उत्साह की बात है। जब आप मैच गंवाते हो तो चीजें मुश्किल हो जाती लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि गेंदबाजी आक्रमण बेहद अनुभवहीन है। इशांत ने बीच में अच्छी गेंदबाजी की लेकिन जब भी दबाव रहा तब तेज गेंदबाजों ने रन लुटाये।’’