जिलाधिकारी राज शेखर ने लांच किया ’’विद्याट्री कनेक्टएड’’ मोबाइल एप

जिलाधिकारी राज शेखर ने लांच किया ’’विद्याट्री कनेक्टएड’’ मोबाइल एप

लखनऊ:  विद्याट्री माॅडर्न ने विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों की सुविधा के लिए आज यहां ‘विद्याट्री कनेक्टएड’ नामक एक नया मोबाइल एप पेश किया, जिसे लांच किया लखनऊ के जिलाधिकारी राज शेखर ने। लखनऊ के एक युवा उद्यमी श्री सिद्धार्थ कपूर की अनूठी पहल, यह मोबाइल एप अभिभावकों के एक बहुत पुराने सवाल कि ‘मेरे बच्चे ने आज स्कूल में क्या किया या क्या सीखा’ का एकदम नये अंदाज में समाधान प्रस्तुत करता है।

इस एप के प्रथम प्रारूप को विकसित करने में दो माह से अधिक समय लगा और यह डिजिटल इंडिया के डिजिटल अभिभावकों को एक खूबसूरत और प्रयोग में सरल स्वरूप में काम की कई जानकारियां मुहैया कराता है, जैसे कि स्कूल का कलेंडर, कक्षा कार्य एवं गृह कार्य का विवरण, अलर्ट्स, विद्यालय समाचार एवं मल्टीमीडिया में ईवेंट्स आदि।

एप का द्वित्तीय प्रारूप अभी विकसित किया जा रहा है, जो कई ऐसी विशेषताओं से युक्त होगा जैसी विश्व मंे अभी अन्यत्र कहीं भी नहीं हैं। यह छात्र के विकास को बहुत विस्तार से दर्शायेगा और अध्यापकों की जिम्मेदारियों पर भी निगाह रखेगा। यह एप दुनिया भर के निजी, सरकारी एवं इंटरनेशनल आईबी वल्र्ड स्कूलों के लाखों विद्यार्थियों को लाभ पहुंचाने की क्षमता रखता है।

लखनऊ के जिलाधिकारी राज शेखर आधिकारिक रूप से विद्याट्री कनेक्टएड मोबाइल एप लांच कर अति प्रसन्न्ा दिखाई दे रहे थे। उद्घाटन समारोह आज यहां हजरतगंज के होटल बैस्ट वैस्टर्न प्लस लेवाना में आयोजित हुआ। जिलाधिकारी को एप अच्छा लगा और उन्होंने इसे स्वयं भी इस्तेमाल करने में रुचि दिखाई। विद्याट्री माॅडर्न वल्र्ड काॅलेज के एक हजार से अधिक अभिभावक पहले से ही इस एप का प्रयोग कर रहे हैं और खुश हैं।

विद्याट्री कनेक्टएड का विकास विद्याट्री लर्निंग प्राइवेट लिमिटेड ने किया है, जो कि विद्याट्री माॅडर्न वल्र्ड काॅलेज की एक अनुषंगी है। अभिभावक अपने बच्चों से जुड़े रहने के लिए लंबे समय से एक सरल और अनूठे समाधान की तलाश में थे। यह एप अभिभावकों को उनके बच्चों की शिक्षा से जोड़ देता है, जिससे छात्रों का विकास सही प्रकार से हो पाता है। 

करीब पांच वर्ष पूर्व स्थापित विद्याट्री लर्निंग प्राइवेट लिमिटेड पाठ्यक्रम का विकास करती है, अध्यापकों की प्रशिक्षण कार्यशालाएं आयोजित करती है और अब इसने यह एप विकसित किया है, जोकि 21वीं सदी के प्रगतिशील इंटरनेशनल स्कूलों के लिए है।