पिच की उछाल से टीम इंडिया को करेंगे परेशान: फिंच

पिच की उछाल से टीम इंडिया को करेंगे परेशान: फिंच

पर्थ। आस्ट्रेलियाई ओपनर आरोन फिंच ने मंगलवार को सीरीज के पहले वनडे से पूर्व भारतीय टीम पर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाते हुए कहा है कि उनकी टीम वाका की उछाल भरी पिचों पर मेहमानों को परेशान करने का पूरा प्रयास करेगी। भारत और आस्ट्रेलिया के बीच 12 जनवरी को पर्थ के वाका स्टेडियम पर पांच मैचों की सीरीज का पहला वनडे खेला जाना है। भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वनडे वाका में वर्ष 2004 में खेला था और तब से लेकर अब तक वहां की पिच में काफी बदलाव संभव है। फिंच ने माना कि मेजबान टीम भारतीय खिलाडिय़ों को यहां की पिच पर मौजूद उछाल की मदद से दबाव में ला सकती है।

फिंच ने रविवार को टीम के अभ्यास सत्र के बाद पत्रकारों से कहा, पिछले कुछ वर्षों में पर्थ की विकेट में बदलाव आया है। मुझे नहीं लगता कि अभी भी पिच पहले जैसी है और इसलिए इसपर जो अतिरिक्त उछाल होगा उसका फायदा उठाकर हम भारतीय टीम को मुश्किल में डाल सकते हैं और पहले ही मैच से हम भारत पर दबाव बनाने का प्रयास करेंगे। आस्ट्रेलियन ओपनर ने कहा, भारतीय टीम में कई युवा खिलाड़ी मौजूद हैं लेकिन साथ ही रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली जैसे अनुभवी भी हैं जो यहां की परिस्थितियों में खुद को आसानी से ढाल सकते हैं। लेकिन हमारी कोशिश रहेगी कि हम पहले ही घंटे से मेहमान टीम पर दबाव बना दें जिससे मैच जीतने में हमें आसानी होगी।

पांचवीं बार विश्व चैंपियन बनी आस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ी ने साथ ही कहा कि उन्हें इस बात से खुशी है कि उनकी टीम वनडे सीरीज को जीतने के लिए प्रथम दावेदार मानी जा रही है। फिंच ने कहा, जीत का दावेदार माना जाना अच्छा अहसास है। हमें खुशी है कि हम इस स्थिति में हैं। यदि लोग आपके बारे में ऐसा सोचते हैं तो साफ है कि आपने अच्छा क्रिकेट खेला है। उन्होंने कहा, यदि आप पसंदीदा हैं तो टीम पर अच्छा करने का उत्साह रहता है क्योंकि आपने पिछले मैचों में अच्छा किया है और आगे भी आपसे ऐसी ही उम्मीद रहती है। इसकी वजह से हम अपना सिर ऊंचा रख सकते हैं और इस सीरीज में भी उसी लय को बरकरार रखने का प्रयास करेंगे। बल्लेबाज ने कहा, हमने विश्वकप में कमाल का प्रदर्शन किया और अब आने वाले कुछ वर्षों में हम इसी प्रदर्शन के साथ आगे बढ़ सकते हैं।

हम पसंदीदा कहलाने के हकदार हैं और इसी वजह से हमारी टीम सीरीज को लेकर इतनी उत्साहित हैं। आस्ट्रेलिया के लिए 52 वनडे मैचों में 38.06 का औसत अपने नाम रखने वाले ङ्क्षफच भारत के खिलाफ निजी प्रदर्शन को लेकर भी आश्वस्त हैं। बल्लेबाज ने कहा, मेरे हिसाब से मैंने पहले काफी अच्छा खेला है और मेरी तकनीक भी अच्छी है। मैंने अपने खेल को लेकर भी कई बदलाव किए हैं और इस सीरीज में मैं अपने निजी प्रदर्शन को लेकर भी आश्वस्त हूं जबकि बतौर टीम हम अपने घरेलू मैदान पर खेल रहे हैं और इसे लेकर भी पूरी टीम का मनोबल ऊंचा है।