पठानकोट में पांचवां आतंकी भी ढेर

पठानकोट में पांचवां आतंकी भी ढेर

प्रधानमंत्री मोदी ने जवानों को दी बधाई 

पठानकोट। पंजाब के पठानकोट जिले में शनिवार तड़के भारतीय वायुसेना के अड्डे पर हुए आतंकी हमले के बाद से चल रही मुठभेड़ में जवानों ने 5वां आतंकी भी मार गिराया। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर जानकारी दी कि आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन खत्म हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों को बधाई दी है।

इलाके में अब सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। हमले वाली जगह वायुसेना के अड्डे से 300 मीटर की दूरी पर है। आज सुबह हुए हमले में पांचों आतंकवादियों को मार गिराया गया है। ये हमला तड़के लगभग 3.30 बजे हुआ था, जिसमें भारतीय वायु सेना के 3 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए, जबकि 6 अन्य घायल हो गए। भारतीय वायु सेना का अड्डा चंडीगढ़ से लगभग 250 किलोमीटर दूर है। आतंकवादियों की संख्या छह तक बताई जा रही है, जो भारतीय सेना की वर्दी में आए थे।

चार आतंकवादियों के मारे जाने के बाद गोलीबारी हालांकि बंद हो गई थी, लेकिन गोलीबारी और ग्रेनेड की आवाजें पहले सुबह 11.30 बजे और फिर दोपहर करीब 3 बजे एक बार फिर सुनी गई। भारतीय वायु सेना के सूत्रों ने कहा कि मिग-21 लड़ाकू विमान, हेलीकॉप्टर, मिसाइल तथा अन्य महत्वपूर्ण संसाधन सुरक्षित हैं और आतंकवादियों को तकनीकी इलाके के निकट नहीं घुसने दिया गया।

एनएसजी के कमांडो, भारतीय वायु सेना के गरूड कमांडो तथा सेना के कमांडो ने आतंकवादियों के खिलाफ हमलों का नेतृत्व किया। समझा जा रहा है कि वे आतंकी यहां से 30 किलोमीटर दूर सीमाई इलाके से घुसपैठ कर पहुंचे थे। पंजाब पुलिस व उसके खास स्वात कमांडो की इकाई ने बाहरी घेरा बनाकर अभियान में मदद की, ताकि कोई भी आतंकवादी भाग नहीं सके। खुफिया अधिकारियों ने कहा कि फिदायीन हमले में शामिल आतंकवादी पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) के सदस्य हो सकते हैं।

भारतीय वायु सेना के हेलीकॉप्टर सुरक्षाबलों के साथ मिलकर तलाशी अभियान चलाया। ऐसी खुफिया खबरें थीं कि आतंकवादी नए साल के आसपास क्षेत्र में रक्षा प्रतिष्ठानों पर हमले कर सकते हैं। सुरक्षाबलों ने पठानकोट-जम्मू राजमार्ग को भी हाई अलर्ट पर रखा है। भारतीय वायु सेना स्टेशन के आसपास के पूरे इलाके को बंद कर दिया गया है।

India