दिल्ली में लागू हुआ सम-विषम फार्मूला, केजरीवाल खुश

दिल्ली में लागू हुआ सम-विषम फार्मूला, केजरीवाल खुश

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शुक्रवार से लागू सम-विषम नंबर योजना पर लोगों से मिल रही प्रतिक्रिया पाकर बहुत खुश हूं। आम आदमी पार्टी के संयोजक ने बताया कि अभी तक यह योजना सफल रही है। सम-विषम कार राशनिंग प्रयोग को मिल रही लोगों की प्रतिक्रिया से उत्साहित, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कहा कि आप सरकार की यह प्रायोगिक पहल अब ‘आंदोलन’ में तब्दील हो गई है।

केजरीवाल की यह टिप्पणियां राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण के स्तर को कम करने के उद्देश्य से आज सम-विषम योजना की शुरूआत के कुछ घंटे बाद आईं। योजना के तहत आज केवल विषम नंबर की पंजीकरण पट्टिकाओं वाली कारें चल सकती हैं। कल का दिन सम नंबर की पंजीकरण पट्टिकाओं वाली कारों के लिए नियत होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शुरूआती खबरों के अनुसार, योजना सफल हो रही है और राष्ट्रीय राजधानी के लोगों ने खुले दिमाग से प्रतिबंधों को स्वीकार किया। उन्होंने कहा ‘मैंने बार बार कहा कि लोगों की भागीदारी से ही योजना सफल होगी, बलपूर्वक नहीं। यह आंदोलन बन गया है और अब तक मिली प्रतिक्रिया से हम उत्साहित हैं।’’ केजरीवाल ने अपने आवास से बाहर संवाददाताओं से कहा ‘दिल्ली पूरे देश के लिए रास्ता दिखाएगी।’

अपनी विषम नंबर की पंजीकरण पट्टिका वाली सरकारी कार से सचिवालय पहुंचे उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मुख्यमंत्री के कथन से सहमति जताते हुए कहा कि लोगों ने इस पहल को अपने खुद के मिशन के तौर पर अपनाया।

उन्होंने कहा ‘और सरकार उनकी केवल मदद कर रही है। इसलिए यह एक आदर्श स्थिति है।’ केजरीवाल अपनी कार में परिवहन मंत्री गोपाल राय और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को लेकर सचिवालय पहुंचे। ये तीनों उत्तर दिल्ली के सिविल लाइन्स इलाके में रहते हैं। दिल्ली के पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा सुबह करीब नौ बजे अपने दुपहिया वाहन से सचिवालय पहुंचे और ट्वीट किया ‘वाह दिल्ली, सम विषम फार्मूले को सफल बनाने के लिए आपका शुक्रिया .. बाइक पर अभी अभी ही कार्यालय पहुंचा .. कोई यातायात नहीं .. दिल्ली अपनी इच्छा से पालन कर रही है।’ सम विषम योजना के दायरे से बाहर रखी गई 25 श्रेणियों में दुपहिया वाहन शामिल हैं।

India