मिचेल जॉनसन ने जूते टाँगे

मिचेल जॉनसन ने जूते टाँगे

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा  

पर्थ: ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। पर्थ में चल रहे दूसरे ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड टेस्ट के बाद वे क्रिकेट के मैदान पर नहीं दिखेंगे। मंगलवार को पर्थ टेस्ट का आखिरी दिन है। मिचेल से पहले माइकल क्लार्क, ब्रेड हैडिन, क्रिस रोजर्स, रेयान हैरिस और शेन वाटसन ने भी संन्यास ले लिया था।

जॉनसन ने संन्यास का ऐलान करते हुए कहा कि मुझे लगता है कि अलविदा कहने का यह सही समय है। मैं काफी भाग्यशाली रहा हूं कि मेरा कॅरियर शानदार रहा और देश के लिए खेलते हुए मैंने हरेक क्षण का मजा लिया। यह अद्भुत सफर था लेकिन इस सफर को कहीं तो रूकना ही था और वाका में ऐसा करना स्पेशल है। मैंने काफी सोच विचार कर यह फैसला लिया है। मुझे नहीं लग रहा था कि इस मैच के बाद मैं उसी जोश से प्रदर्शन कर पाऊंगा।

जॉनसन ऑस्ट्रेलिया की ओर से सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने के मामले में चौथे पायदान पर हैं। जॉनसन ने 72 टेस्ट में 311 विकेट और 153 वनडे में 239 विकेट अपने नाम किए। उन्होंने पर्थ टेस्ट में डग ब्रेसवेल का विकेट लेकर ब्रेट ली को पीछे छोड़ा था। उनसे आग डेनिस लिली (355), ग्लेन मैक्ग्राथ (563) और शेन वार्न (708) हैं। जॉनसन को 2013-14 एशेज सीरिज में उनकी तूफानी गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। इस सीरीज में उन्होंने पांच टेस्ट में 37 विकेट लिए थे। इसके बाद उसी सीजन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जॉनसन ने 22 विकेट लिए थे।