नीतीश बने जेडीयू विधायक दल के नेता

नीतीश बने जेडीयू विधायक दल के नेता

पटना : जनता दल यूनाइटेड ने आज मनोनीत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपना विधायक दल का नेता चुन लिया। 20 नवंबर को गांधी मैदान में नीतीश कुमार एक बार फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। 

जेडीयू की राज्य इकाई के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने यहां संवाददाताओं को बताया कि पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों की नीतीश कुमार के आवास पर बैठक हुई जिसमें उन्हें पार्टी विधायक दल का नेता चुना गया। बैठक में जदयू के अध्यक्ष शरद यादव, महासचिव के सी त्यागी, पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह सहित अन्य नेता मौजूद थे।

निवर्तमान सरकार में वरिष्ठ मंत्री बिजेन्द्र प्रसाद यादव ने विधायक दल के नेता के लिए नीतीश कुमार के नाम का प्रस्ताव रखा जिसे अन्य सदस्यों ने तत्काल मंजूरी दे दी। जेडीयू विधायक दल के नेता के पद पर नीतीश कुमार के चयन से उन्हें जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के महागठबंधन के विधायक दल का नेता चुने जाने का रास्ता साफ हो गया है।

तीनों पार्टियों के नवनिर्वाचित विधायकों की दोपहर करीब तीन बजे बैठक होगी जिसमें नीतीश को औपचारिक रूप से उनका नेता चुना जाएगा। जदयू की राज्य इकाई के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने बताया कि पार्टी के विधायकों, विधान पाषर्दों को अपने संबोधन में नीतीश ने जनता द्वारा उन्हें सौंपी गई बड़ी जिम्मेदारी को समझने के लिए कहा।

कुल 101 सीटों पर विधानसभा चुनाव लड़ने वाले जेडीयू ने 71 सीटें जीती हैं। जेडीयू विधायक दल की बैठक नीतीश द्वारा राज्यपाल रामनाथ कोविंद से मुलाकात करने के बाद हुई। नीतीश ने राज्यपाल को विधानसभा भंग करने के लिए राज्य मंत्रिमंडल की बैठक के बारे में अवगत कराया ताकि 16वीं विधानसभा और नई सरकार का गठन हो सके।