अश्विन ने दिखाया दस का दम

अश्विन ने दिखाया दस का दम

मोहाली में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 108 रन से रौंदा

मोहाली:  गांधी-मंडेला टेस्ट सीरीज के पहले मैच में टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को मैच के तीसरे दिन ही 108 रन से हरा दिया। टीम इंडिया दूसरी पारी में आज 200 रन पर आउट हो गई थी। उसके बाद दक्षिण अफ्रीका को जीतने के लिए 218 रन बनाने थे। उसकी पूरी टीम 109 रन पर ऑल आउट हो गई। भारत के पहली पारी के 201 रन के जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने 184 रन बनाये थे।

भारतीय टीम में शानदार वापसी करने वाले रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन ने फिरकी का जाल बुनकर कम स्कोर वाले पहले क्रिकेट टेस्ट के तीसरे ही दिन आज भारत को दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम दक्षिण अफ्रीका पर 108 रन से जीत दिला दी।

जीत के लिये 218 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका की टीम दूसरी पारी में 39.5 ओवर में 109 रन पर आउट हो गई। मैन ऑफ द मैच बने जडेजा ने 11.5 ओवर में 21 रन देकर पांच विकेट लिये जबकि पहली पारी में उन्होंने तीन विकेट लिये थे। वहीं पहली पारी में पांच विकेट लेने वाले अश्विन ने तीन विकेट चटकाये। विराट कोहली की भारतीय सरजमीं पर बतौर टेस्ट कप्तान यह पहली जीत है।

इससे पहले भारत के पहली पारी के 201 रन के जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने 184 रन बनाये थे। पहली पारी में 17 रन की बढत लेने के बाद भारत ने दूसरी पारी में 200 रन बनाये जिससे दक्षिण अफ्रीका को 218 रन का लक्ष्य मिला था। भारत की दूसरी पारी लंच के बाद 200 रन पर सिमट गई लेकिन भारतीयों ने दक्षिण अफ्रीका को भी अच्छा आगाज नहीं करने दिया। आर अश्विन और रविंद्र जडेजा की स्पिन जोड़ी ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों के लिये लक्ष्य दुरूह कर दिया। चार रणजी मैचों में सौराष्ट्र के लिये 38 विकेट लेकर टीम में वापसी करने वाले जडेजा खास तौर पर काफी आक्रामक दिखे।

वेर्नोन फिलैंडर को पारी की शुरुआत करने भेजने का दक्षिण अफ्रीका का फैसला गलत साबित हुआ। जडेजा ने दूसरे ओवर की पहली ही गेंद पर उन्हें पगबाधा आउट किया। दूसरे छोर पर अश्विन ने फाफ डु प्लेसिस (1) को स्लिप में लपकवाया। कप्तान हाशिम अमला खाता खोले बिना जडेजा की गेंद पर बोल्ड हो गए। एक समय पर दक्षिण अफ्रीका का स्कोर तीन विकेट पर 10 रन था। अमित मिश्रा 10वें ओवर में गेंदबाजी के लिये आये। उन्होंने पहली पारी में सर्वाधिक रन बनाने वाले एबी डिविलियर्स (16) को पवेलियन भेजा। तेज गेंदबाज वरूण आरोन ने 16वें ओवर में गेंद संभाली और डीन एल्गर (16) को शॉर्ट आफ लैंग्थ गेंद पर मिड ऑन में विराट कोहली के हाथों लपकवाया।

जडेजा ने 24वें ओवर में विकेटकीपर डेन विलास (7) को आउट करके दक्षिण अफ्रीका को एक और झटका दिया। इसके बाद सिमोन हार्मर (11) ने स्टियान वान जिल (36) के साथ सातवें विकेट के लिये 42 रन जोड़े लेकिन दक्षिण अफ्रीका ने आखिरी चार विकेट सात रन के भीतर गंवा दिये। हार्मर को जडेजा ने रहाणे के हाथों लपकवाया। वहीं वान जिल भी उसी अंदाज में आउट हुए लेकिन इस बार गेंदबाज अश्विन थे। डेल स्टेन (2) को अश्विन और इमरान ताहिर (4) को जडेजा ने पवेलियन भेजकर औपचारिकता पूरी कर दी।

इससे पहले पहली पारी में 17 रन की बढत लेने वाली भारतीय टीम ने सुबह के सत्र में 60 रन जोड़े लेकिन छह विकेट गंवा दिये। भारत ने अपने कल के स्कोर दो विकेट पर 125 रन से आगे खेलना शुरू किया था। भारत ने छह विकेट सिर्फ 24 रन के भीतर गंवाये क्योंकि एक समय स्कोर दो विकेट पर 161 रन था। कप्तान विराट कोहली (29) ड्रिंक्स ब्रेक के तुरंत बाद आउट हो गए। लंच के समय रिधिमान साहा (8) क्रीज पर थे जबकि आर अश्विन तीन रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

पहले घंटे के खेल के बाद भारत ने विकेट गंवा दिया। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान हाशिम अमला की गेंदबाजों को रोटेट करने की रणनीति कारगर साबित हुई। चेतेश्वर पुजारा (77) और कोहली ने तीसरे विकेट के लिये 66 रन की साझेदारी की लेकिन इसके बाद स्पिनर इमरान ताहिर और सिमोन हार्मर ने भारतीय बल्लेबाजी का पतन शुरू किया। दोनों ने तीन तीन विकेट चटकाये। ड्रिंक्स ब्रेक के बाद अनियमित गेंदबाज स्टियान वान जिल ने कोहली को विकेट के पीछे डेन विलास के हाथों लपकवाया। पुजारा भी ज्यादा देर नहीं टिक सके। ताहिर ने अपनी पहली ही गेंद पर उन्हें रवाना किया। ताहिर की टर्न लेती गेंद पर फुटवर्क का इस्तेमाल किये बिना पुजारा ने बल्ला लगाया और पहली स्लिप में अमला ने कैच लपक लिया।

ऑफ स्पिनर हार्मर ने अजिंक्य रहाणे (2) का विकेट लिया। फारवर्ड शॉर्ट लेग पर सब्स्टीट्यूट तेंबा बावुमा ने एक और बेहतरीन कैच लपका। रविंद्र जडेजा (8) और साहा क्रीज पर जमते दिख रहे थे कि हार्मर ने जडेजा को पवेलियन भेज दिया। हार्मर की ऑफ स्पिन को समझने में चकमा खाये जडेजा पगबाधा आउट हुए। इसके बाद हार्मर ने अमित मिश्रा को अपना तीसरा शिकार बनाया जिनका कैच बैकवर्ड स्क्वेयर लेग पर फाफ डु प्लेसिस ने पकड़ा। ताहिर ने इसके बाद अश्विन को स्लिप में कैच आउट कराया। बाकी दोनों विकेट भी लंच के बाद तुरंत ही निकल गए।