भारत में आफ्टर-सेल्स सेवा संतुष्टि में आया सुधार:  जेडी पावर

भारत में आफ्टर-सेल्स सेवा संतुष्टि में आया सुधार: जेडी पावर

आज को जारी हुए जेडी पावर 2015 इंडिया ग्राहक सेवा सूचकांक (सीएसआई) के अध्ययन एसएम - मास मार्केट के मुताबिक, ऑटो निर्माताओं द्वारा सर्विस वर्कशॉप में प्रक्रियाओं के दृढ़ कार्यान्वयन, तेज वाहन प्रतिवर्तन और बढ़ी हुई ग्राहक सुविधाओं के फलस्वरूप बिक्री पश्चात सेवा (आफ्टर-सेल्स सर्विस) के मामले में संतुष्टि में वृद्धि हुई है। 

यह अध्ययन, जोकि अब अपने 19वें वर्ष में है, वाहन स्वामित्व के पहले 12 से 24 महीने के बीच रखरखाव या मरम्मत के काम के लिए किसी अधिकृत डीलरशिप सर्विस सेंटर पर पधारने वाले वाहन मालिकों के बीच संतुष्टि की परख करता है। अध्ययन (महत्व के क्रम में सूचीबद्ध) पांच कारकों में समग्र संतुष्टि को मापता हैः सेवा की गुणवत्ता (43 प्रतिशत); वाहन पिकअप (17 प्रतिशत); सेवा सलाहकार (14 प्रतिशत); सेवा सुविधा (14 प्रतिशत); और सेवा प्रवर्तन (प्रारंभ) (11 प्रतिशत)। ग्राहकों की समग्र संतुष्टि एक 1000 सूत्री पैमाने पर मापा जाता है, जिस पर प्राप्त उच्च स्कोर, उच्च संतुष्टि की ओर संकेत करता है।

मास मार्केट सेगमेंट (बड़े पैमाने के बाजार खंड) में समग्र सेवा संतुष्टि (ओवरऑल सर्विस सेटीस्फेक्शन) 2014 में प्राप्त 856 अंकों की तुलना में 10 अंक की बेहतरी के साथ 2015 में 866 रहा है। यह वृद्धि, सेवा प्रवर्तन (प्रारंभ) में सबसे बड़े सुधार (14 अंक) के साथ, सभी कारकों में मजबूत सुधार के कारण ही प्राप्त हुई है।

जेडी पावर के कार्यकारी निदेशक मोहित अरोड़ा ने कहा, “आज, वाहन निर्माता सिर्फ की कारों की सर्विसिंग ही नहीं कर रहे हैं बल्कि वे अपने ग्राहकों को सही मायने में यादगार और संतोषजनक बिक्री पश्चात अनुभव प्रदान करने के लिए अतिरिक्त मेहनत कर रहे हैं।