फेसबुक के लिए भारत सबसे अहम: जुकरबर्ग

फेसबुक के लिए भारत सबसे अहम: जुकरबर्ग

नई दिल्ली: सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने बुधवार को आईआईटी दिल्ली में टाउनहॉल प्रश्नोत्तर सत्र का आयोजन कर छात्रों के कई सवालों के बेबाक जवाब दिए। जुकरबर्ग ने कहा कि वह भारत आकर बेहद उत्साहित है। भारत, पाकिस्तान और आफगानिस्तान में आए भूकंप पर उन्होंने चिंता जताई और कहा कि ऐसे मौके पर सबको साथ आना चाहिए।

सबसे पहला सवाल जुकरबर्ग से किया गया कि भारत में आपकी (जुकबरबर्ग की) इतनी दिलचस्पी क्यों है? सवाल के जवाब में जुकरबर्ग ने कहा कि हमारी मंशा फेसबुक से दुनिया को जोड़ने की है। फेसबुक दुनिया को जोड़ता है। भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है। इसलिए भारत हमारे लिए सबसे अहम है।

एक सवाल का जवाब देते हुए जुकरबर्ग ने कहा कि 24 देशों के 5 करोड़ लोग नई कोशिशों के तहत फेसबुक से जुड़े है जो एक बड़ी बात है। 5 करोड़ लोगों को इंटरनेट डॉट ओआरजी से जोड़ा गया है। उनसे सवाल यह किया गया था कि फेसबुक और इंटरनेट से दूर रहनेवाले लोग आपसे कैसे जुड़ते है? यह दूसरा सवाल था जो अंकिता जैन नामक छात्रा ने पूछा था।  

एक स्टूडेंट ने उनसे पूछा कि कि कैंडीक्रश गेम की इन्विटेशन रोकने के लिए क्या करें? इसके जवाब में मार्क ने कहा कि उन्हें इस समस्या के बारे में पता है और वे इस पर काम कर रहे हैं। गौर हो कि कैंडीक्रश गेम फेसबुक फ्लैटफॉर्म पर बेहद मशहूर है। हालांकि, इस गेम को खेलने वाले अन्य यूजर्स को रिक्वेस्ट भेजते हैं। इसकी वजह से बहुत सारे यूजर्स को परेशानी होती है।

मार्क ने कहा कि आनेवाले वक्त में वीडियो सर्च ऑप्शन भी शुरू किया जाएगा। मार्क ने एक सवाल के जवाब में कहा कि ज्यादा लोगों के फेसबुक से जुड़ने से भारत की गरीबी मिटेगी। लोग फेसबुक पर थ्रीडी रियलिटी का ऑप्शन चाहते है। फेसबुक के भविष्य में कौन-कौन से नए प्रोडक्ट लाने के बारे में जुकरबर्ग ने कहा कि अगले 5-10 साल में ह्यूमन सेंस वाले कंप्यूटर्स लाने वाले हैं।

India