आतंकी समूहों में फर्क करना बंद करे पाकिस्तान: ओबामा

आतंकी समूहों में फर्क करना बंद करे पाकिस्तान: ओबामा

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के समक्ष यह स्पष्ट कर दिया है कि उनके देश को आतंकी समूहों के बीच फर्क नहीं रखना चाहिए। यह जानकारी व्हाइट हाउस से जारी एक बयान में दी गई है।

व्हाइट हाउस के प्रेस उपसचिव एरिक शुल्त्ज ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में संवाददाताओं को बताया, ‘राष्ट्रपति के लिए जो एक बात महत्वपूर्ण थी, वह यह थी कि पाकिस्तान को आतंकी समूहों में अंतर नहीं करना चाहिए। पहले भी हम यह बात स्पष्ट कर चुके हैं और द्विपक्षीय बैठक में भी यह बात दोहराई गई।’ 

अधिकारियों के अनुसार, पाकिस्तान ने सिर्फ उन्हीं आतंकी समूहों को निशाना बनाया, जो पाकिस्तान सरकार के खिलाफ रहे हैं। गुरुवार को ओवल ऑफिस में ओबामा और शरीफ की मुलाकात लगभग 90 मिनट तक चली।

शुल्त्ज ने कहा, ‘ओबामा ने इस बात को रेखांकित किया कि अमेरिका पाकिस्तान के साथ एक व्यापक, टिकाउ और दीर्घकालिक साझेदारी के लिए प्रतिबद्ध है, जो कि पाकिस्तानी जनता के लिए प्रगति लाती है और पाकिस्तान के लोकतंत्र एवं नागरिक समाज को मजबूत बनाती है।’ 

उन्होंने कहा, ‘विशेष तौर पर आतंकवाद के मुद्दे पर राष्ट्रपति ओबामा और प्रधानमंत्री शरीफ दोनों ने ही कहा कि हमारे दोनों देशों को आतंकियों से खतरा है और पाकिस्तानी जनता ने बहुत कष्ट सहे हैं।’