सानिया-हिंगिस ने जीता साल का नौवां खिताब

सानिया-हिंगिस ने जीता साल का नौवां खिताब

पिछले एक महीने के अंदर गुआंगझोऊ, वुहान और अब बीजिंग में लगातार तीन टूर्नामेंट का खिताब जीतकर सानिया मिर्जा ने साल 2015 को अपने और फैन्स के लिए हमेशा के वास्ते यादगार बना दिया है।

हालांकि बीजिंग में चाइना ओपन का खिताब जीतने में सानिया और मार्टिना हिंगिस की जोड़ी को काफी संघर्ष करना पड़ा। इस जोड़ी ने पहला सेट 6-7 से गंवा दिया। मगर दूसरे सेट में शानदार वापसी करते हुए सानिया-हिंगिस की टॉप जोड़ी ने चाइनीज़ ताइपेई की हाओ चिंग चैन और युंग-जैन चैन की जोड़ी को 6-1 से हरा दिया।

तीसरे सेट में ताइपेई की हाओ चिंग चैन और युंग-जैन चैन की जोड़ी ने फॉर्म में चल रही सानिया-हिंगिस की जोड़ी के सामने अच्छी मुश्किलें पेश कीं। लेकिन सानिया-हिंगिस की जोड़ी तीसरा सेट 10-8 से जीतने में कामयाब रहीं।

सानिया-हिंगिस को चाइना ओपन का फाइनल जीतने में करीब 1 घंटे 40 मिनट का वक्त लगा। 4.7 मिलियन डॉलर के चाइना ओपन के साथ सानिया ने 2015 में नौवें खिताब पर अपनी मुहर लगा दी। इनमें से 8 खिताब सानिया ने सिंगल्स की पूर्व वर्ल्ड नंबर एक स्विस स्टार मार्टिना हिंगिस के साथ जीते हैं।

सानिया ने 2013 में ज़िंबाब्वे की कारा ब्लैक के साथ चाइना ओपन का खिताब अपने कब्जे में किया था। चौथी बार इस टूर्नामेंट का फ़ाइनल खेल रहीं सानिया ने इस बार हिंगिस के साथ ख़िताब जीतने में कोई चूक नहीं की। अपने पूरे करियर में ढाई दर्जन खिताबों की मलिका सानिया लाजवाब फॉर्म में हैं। हिंगिस के साथ ही सानिया ने इस साल विंबल्डन और यूएस ओपन जैसे ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट पर भी कब्जा किया।