मार्क जुकरबर्ग पर धोखाधड़ी का केस दर्ज

मार्क जुकरबर्ग पर धोखाधड़ी का केस दर्ज

सैन जोस। एक प्रॉपर्टी डेवलपर ने फेसबुक सीईओ मार्क जुकरबर्ग पर धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है। कैलिफोर्निया की अदालत ने प्री-ट्राइल में जुकरबर्ग को दोषी माना है। अब अगले हफ्ते मुकदमे की औपचारिक सुनवाई शुरू होगी।

यह था मामला!

मामला जुकरबर्ग के बेडरूम की प्राइवेसी से जुड़ा है। दरअसल जुकरबर्ग ने कैलिफार्निया के पालो अल्टो में मिर्सिया वोस्केरिसयन से अपने घर के पीछे वाले घर और प्रॉपर्टी को खरीदने की 2012 में डील की थी। इस घर में जुकरबर्ग का बेझरूम दिखता है। प्राइवेसी की खातिर जुकरबर्ग ने पूरी प्रॉपर्टी खरीदने का फैसला किया।

मिर्सिया का दावा है कि उन्होंने जुकरबर्ग को 40 प्रतिशत का डिस्काउंट दिया। बदले में जुकरबर्ग ने वादा किया कि सिलिकॉन वैली में अपने रेफ्रेंस के बूते बिजनेस बढ़ाने में मदद करेंगे। टॉप सीईओ और प्रोफेशनल्स से जान-पहचान करवाएंगे। लेकिन ऎसा हुआ नहीं।

यह डील 11 करोड़ रूपए की गई थी। बाद में मिर्सिया कोर्ट पहुंच गए। कैलिफोर्निया में गुरूवार को मामले का आखिरी प्री-ट्राइल हुआ। सैन जोस की स्टेट जज पैट्रिसिया लुकास ने इसमें जुकरबर्ग की केस खत्म करने की अर्जी खारिज कर दी। साथ ही कहा कि वह फैसले से पहले जुकरबर्ग की दलीलें जरूर सुनेंगी। मामले में जुकरबर्ग के फाइनेंशियल सलाहकार दिवेश माकन धोखाधड़ी की साजिश रचने के आरोपी हैं।