स्टार इण्डिया के उदय शंकर बने ‘‘बहुराष्ट्रीय कम्पनी के श्रेष्ठ सीईओ‘‘

स्टार इण्डिया के उदय शंकर बने ‘‘बहुराष्ट्रीय कम्पनी के श्रेष्ठ सीईओ‘‘

स्टार इण्डिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी उदय शंकर को फोब्र्स इण्डिया लीडरशिप अवाॅर्ड(एफआईएलए)-2015 की ओर से इस वर्ष का बहुराष्ट्रीय कम्पनियों (एमएनसी) के बीच श्रेष्ठ मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप सम्मानित किया गया है।

यह सम्मान एफआईएलए की ओर से आयोजित समारोह में प्रदान किया गया। श्री शंकर मीडिया और मनोरंजन कम्पनी के पहले एमएनसी हैड हैं जिन्हें इस प्रतिष्ठित अवाॅर्ड से नवाजा गया। 

श्री शंकर को किसी बहुराष्ट्रीय कम्पनी का श्रेष्ठ मुख्य कार्यकारी अधिकारी का यह सम्मान उनके साथियों की शानदार जूरी ने सम्पूर्ण पुनरीक्षण बाद प्रदान किया। इस जूरी में उद्योग जगत के अग्रणी जैसे कि हर्ष मारीवाला, चेयरमैन, मारीको लि., नन्दलाल किदवई, चेयरमैन एचएसबीसी, भारत तथा एचएसबीसी एशिया प्रशांत, नौशिर काका, प्रबन्ध निदेशक, मिस्किन्सी इण्डिया और संजय नायर, सीईओ केकेआर इण्डिया शामिल थे। इन निर्णायकों का कहना था कि हमने चुनिंदा नामितों जिनमें हिन्दुस्तान युनिलिवर, सेमसंग, एबीबी इण्डिया और मारूति सुजुकी इण्डिया के लीडर शामिल थे में श्री शंकर का चयन किया।

यह सम्मान स्वीकार करते हुए श्री उदय शंकर ने कहा ‘‘ यह स्टार इण्डिया की तरफ से सम्मान प्राप्त करते हुए मैं स्वयं को अत्याधिक विनम्र महसूस कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि यद्यपि यह बहुराष्ट्रीय कम्पनी है तथापि इसका दिल भारतीय है। हमारा यही प्रयास मीडिया की ताकत से सामाजिक बदलाव लाएं ताकि एक अरब लोगों की कल्पनाओं को बदला जा सके।‘‘

श्री शंकर ने इसके साथ ही कहा कि अगर मैं एक पत्रकार न होता तो आज यहां यह सम्मान प्राप्त नहीं कर रहा होता। इ स पेशे ने मुझे सामाजिक रूप से प्रासंगिक होने का महत्व बताया ताकि मैं उन बारीकियों को अपनी आंखों से देखूं जिन्हें आम अवाम सहज रूप से नहीं देख पाता। इस पेशे ने मुझे यह भी समझाया कि जीवन मूल्यों का महत्व बडे कामों को करने के बाद ही मिल सकता है और मैंने अंतिम रूप से सही कामों को करने का विचार किया, इसके बारे में मैंने अपने साथियों तक को नहीं बताय क्यों कि प्रत्येक अनेक गलतियां करते हैं।‘‘