डुमिनी ने गेंदबाजों का किया बचाव

डुमिनी ने गेंदबाजों का किया बचाव

नयी दिल्ली : दक्षिण अफ्रीका के सीनियर बल्लेबाज जेपी डुमिनी ने अनुभवहीन भारत ए टीम के हाथों अभ्यास मैच में मिली हार के बावजूद अपने युवा गेंदबाजों का बचाव करते हुए कहा कि उनका फोकस नतीजों की बजाय हालात को आंकने पर था।

डुमिनी ने मैच के बाद कहा, मुझे अपने गेंदबाजों पर पूरा भरोसा है और मैं सौ फीसदी उनके साथ हूं। वे भारतीय बल्लेबाजों पर अंकुश लगा सकते थे लेकिन उनका फोकस नतीजे पर नहीं बल्कि यहां के हालात को आंकने पर था। उन्होंने कहा, काइल एबोट, डि लांगे और मौरिस पहले भी यहां गेंदबाजी कर चुके हैं लेकिन कागिसो रबाडा के लिये यह नया अनुभव था। उसे समझ में आ गया होगा कि यहां कैसे खेलना है।

दक्षिण अफ्रीका के लिये 32 गेंद में नाबाद 68 रन बनाने वाले डुमिनी ने कहा, टी20 मैच में सभी पहलुओं का आकलन नहीं किया जा सकता लेकिन हम सभी ने 30-30 गेंदें खेली। मैं इस मैदान पर अभ्यास मैच खेल चुका हूं और यह विकेट धर्मशाला के विकेट जैसा ही है। स्पिनरों को इस पर अधिक टर्न नहीं मिला।

मेजबान कप्तान मनदीप सिंह ने कहा कि यह हार दक्षिण अफ्रीका के लिये खतरे की घंटी है। वहीं जीत के नायक कर्नाटक के बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने कहा, जो भी मौका मिले, उसमें रन बनाना मेरे लिये अहम है। मैं प्रक्रिया पर फोकस करता हूं और हम एक दूसरे की सफलता का मजा लेते हैं।