'शत्रु' बने बिहार में भाजपा के स्टार प्रचारक

'शत्रु' बने बिहार में भाजपा के स्टार प्रचारक

नई दिल्ली: बार-बार अपने बयानों से बीजेपी को परेशानी में डालने वाले शत्रुघ्न सिन्हा को बिहार विधानसभा चुनावों के स्टार प्रचारकों में शामिल किया गया है। ये स्टार ब्रिगेड पीएम नरेंद्र की अगुवाई में बिहार चुनावों के प्रचार की जिम्मेदारी संभालेगी। पीएम मोदी बिहार में चार चुनावी रैली कर चुके हैं, जिनमें भारी भीड़ जुटी थी। बीजेपी ने हालांकि अपने सीएम उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है लेकिन वह पीएम मोदी और विकास के नाम पर वोट मांग रही है।

इन स्टार प्रचारकों की लिस्ट में सुषमा स्वराज, अरुण जेटली, राजनाथ सिंह, लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी भी शामिल हैं। चुनाव आयोग को हर पार्टी अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट देनी होती है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, टीवी एक्ट्रेस से नेता बनीं स्मृति ईरानी और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी बिहार में बीजेपी के प्रचार का जिम्मा उठाएंगे।

पटना साहिब से सांसद सिन्हा ने कहा कि बिहार चुनाव में राजग के चुनाव प्रचार अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका नहीं मिलने से उन्हें पीड़ा हुई है। उन्होंने नीतीश कुमार की शान में कसीदे पढ़ते हुए उन्हें देश के सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्रियों में एक बताया और कहा कि दोस्ती पार्टी के दायरे से परे होती है।

उनसे जब पूछा गया कि उन्हें पार्टी में हाशिये पर डाल दिया गया क्योंकि वह लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा में प्रधानमंत्री पद की होड़ के दौरान लाल कृष्ण आडवाणी के साथ थे, उन्होंने कहा, ‘‘हो सकता है कि मुझे निशाना बनाया गया हो क्योंकि मैं आडवाणी खेमे से जुड़ा हूं।’

उन्होंने पार्टी नेतृत्व को परोक्ष रूप से चुनौती देते हुए कहा कि वह लोकप्रिय हैं और निर्दलीय के रूप में भी चुनाव लड़ सकते हैं एवं जीत सकते हैं। सिन्हा कुछ महीनों से कई मुद्दों पर पार्टी लाइन का उल्लंघन कर रहे हैं, उनमें चाहे कुमार की प्रशंसा करना हो या फिर लोकसभा से कांग्रेस सांसदों का निलंबन। हालांकि उन्होंने जोर देकर कहा है कि उन्होंने कभी भाजपा की लक्ष्मण रेखा नहीं लांघी।