राहुल का दलित के घर भोजन करना नाटक है: अमरिंदर सिंह

राहुल का दलित के घर भोजन करना नाटक है: अमरिंदर सिंह

नई दिल्ली: एक अंग्रेजी अखबार को अमरिंदर ने कहाकि पार्टी में कोई भी पंजाब को गंभीरता से नहीं ले रहा है। राहुल अभी युवा है। उन्हें खुद को भारत के रंग में रंगना है। आप भारत को नहीं बदल सकते, आपको इसके हिसाब से बदलना होगा। असलियत अभी राहुल को समझ नहीं आई है। कहीं जाना और वहां बैठना, दलित के घर में खाना खा लेना समस्या का समाधान नहीं है, नाटक है। सोनिया को जब तक राहुल काबिल न हो जाए तब तक पद पर रहना चाहिए।

उन्होंने पंजाब में कांग्रेस नेतृत्व पर भी सवाल उठाते हुए कहाकि, प्रताप बाजवा को एक मौका दिया लेकिन असफल होने पर भी बिठाए रखना कहां की समझदारी है? यह काम करने का तरीका नहीं है। इंदिरा गांधी होती तो अब तक बाजवा को उठाकर फेंक चुकी होती। जिस तरह से राहुल ने पंजाब को संभाला है मैं उससे असंतुष्ट हूं। अमरिंदर सिंह ने इस दौरान अपनी पार्टी बनाने का संकेत भी दिया। उन्होंने कहाकि लोग कह रहे हैं कि अगर कांग्रेस इसी तरह बर्ताव करती है तो तुम अपने रास्ते बढ़ो। बदलाव नहीं होता है तो मुझे अपने विकल्प टटोलने होंगे।

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री ने आम आदमी पार्टी को चरमपंथी करार दिया। उन्होंने कहाकि पंजाब में हमें आप के आंदोलन पर काबू पाने की जरूरत है। आज भी पंजाब में चरमपंथी वामपंथ और दक्षिणपंथी ताकतें हैं जो आप में शामिल हो रही है। पंजाब आप चरमपंथियों का गुट बन गई है।