राकेश मारिया नाराज, दे सकते हैं इस्‍तीफा

राकेश मारिया नाराज, दे सकते हैं इस्‍तीफा

मुंबई : शीना बोरा हत्याकांड के आरोपियों के साथ असामान्य ढंग से पूछताछ करने वाले मुंबई पुलिस के रसूखदार आयुक्त राकेश मारिया को मंगलवार को इस पद से हटा दिया गया और पुलिस होम गार्ड्स में महानिदेशक बना दिया गया, लेकिन शाम होते होते एक अजीब घटनाक्रम में उन्हें मामले की जांच की ‘निगरानी’ से नहीं हटाने का ऐलान किया गया।

वहीं, मीडिया में बुधवार को सामने आई कुछ रिपोर्टों के अनुसार, मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर और शीना मर्डर केस की जांच कर रहे राकेश मारिया इस्तीफा दे सकते हैं। मारिया पुलिस कमिश्नर के पद से हटाए जाने से नाराज बताए जा रहे हैं। कथित तौर पर मारिया अपने इस अचानक तबादले का कारण राजनीति मान रहे हैं।

उन्हें मंगलवार को मुंबई पुलिस कमिश्नर पद से हटाकर डीजी होमगार्ड बना दिया गया। उनकी जगह अहमद जावेद को मुंबई का नया कमिश्नर बनाया गया है। हालांकि, महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि मारिया शीना मर्डर केस की जांच करते रहेंगे। दूसरी ओर, मुंबई के पुलिस आयुक्त पद से राकेश मारिया की छुट्टी को लेकर महाराष्ट्र में राजनीति गरमा गई है। कांग्रेस और एनसीपी ने आरोप लगाया है कि केंद्र के दबाव में मारिया को हटाया गया है। जबकि राज्य सरकार ने कहा है कि त्योहारों में गड़बड़ी की आशंका के चलते समय से 20-22 दिन पहले जावेद अहमद को नई जिम्मेदारी दी गई है। बता दें कि मारिया को मुंबई पुलिस कमिश्‍नर पद पर 30 सितंबर तक बने रहना था। लिहाजा उन्हें पदोन्नत करके डीजी होमगार्ड के साथ कमांडेंट जनरल सिविल डिफेंस का पद दिया गया है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) केपी बक्शी ने बताया कि सरकार ने फैसला किया है कि राकेश मारिया की पदोन्नति और तबादले के बावजूद शीना बोरा हत्याकांड की निगरानी वह करेंगे। मंगलवार को दिनभर महानगर के पुलिस महकमे में नाटकीय घटनाक्रम सामने आए। मारिया के स्थान पर अहमद जावेद को मुंबई के पुलिस आयुक्त का कार्यभार सौंप दिया गया। अहमद जावेद चूंकि पुलिस होमगार्ड्स में महानिदेशक के पद पर थे इसलिए पुलिस आयुक्त के पद का भी दर्जा बढ़ा दिया गया। मारिया को उनके द्वारा रिक्त किया गया पद सौंपा गया। मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस कल रात जापान की यात्रा पर जाने से पहले इन तब्दीलियात को मंजूरी देकर गए थे।

India